यूपीएससी 2019: झारखंड से बनेंगे 23 अफसर, 9वीं रैंक पाकर देवघर के रवि जैन स्टेट टॉपर, 3 आदिवासी युवाओं को भी मिली सफलता

यूपीएससी 2019: झारखंड से बनेंगे 23 अफसर, 9वीं रैंक पाकर देवघर के रवि जैन स्टेट टॉपर, 3 आदिवासी युवाओं को भी मिली सफलता - Panchayat Times

रांची. संघ लोक सेवा आयोग (यूपीएससी) ने 4 अगस्त (मंगलवार) को सिविल सेवा परीक्षा-2019 के परिणाम घोषित कर दिए हैं. चयनित 829 अभ्यर्थियों में हरियाणा के प्रदीप सिंह ने पूरे देश में टॉप किया है. दूसरे स्थान पर जतिन किशोर आए हैं. यूपी की प्रतिभा वर्मा ने तीसरा स्थान पाते हुए महिला उम्मीदवारों में पहले स्थान पर रहीं हैं.

वहीं झारखंड के 23 अभ्यर्थियों ने सफलता पाई है. देवघर के रवि जैन देशभर में नौवीं रैंक पाकर स्टेट टॉपर बने हैं. वहीं राज्य के 3 आदिवासी युवाओं ने भी सफलता प्राप्त की है.

आईआईटी धनबाद के चार इंजीनियरों को भी मिली सफलता

रांची से एक, जमशेदपुर से 3, संथाल परगना से 5, धनबाद से 5 और चाईबासा के दो चचेरे भाई हैं. आईआईटी धनबाद के चार इंजीनियरों को भी सफलता मिली है. 472वीं रैंक पाने वाले अभिनव कुमार साइकिल मिस्त्री के बेटे है. घर की खराब माली हालत के कारण अभिनव का शैक्षणिक जीवन काफी संघर्षपूर्ण रहा. यूपीएससी की तैयारी के लिए कोचिंग नहीं ले सके. तीन बार की कोशिश के बाद चौथी बार में उन्हें यह सफलता मिली.

देवघर के रवि जैन ने देश में प्राप्त किया 9वां रैंक

सिविल सेवा परीक्षा, 2019 में देवघर के रवि जैन ने देश में 9वां रैंक प्राप्त किया. वहीं, हजारीबाग के दीपांकर चौधरी को 42वां रैंक, हजारीबाग के ही प्रियंक किशोर को 61वां रैंक, गढ़वा शहर के सहिजना टी निवासी शिवेंदु भूषण ने सिविल सेवा परीक्षा, 2019 में 83वां रैंक प्राप्त किया है.

झारखंड के 3 आदिवासी युवाओं को भी मिली सफलता

सिविल सेवा परीक्षा, 2019 में झारखंड के 3 आदिवासी युवाओं को भी सफलता मिली है. इसमें दो महिला और एक पुरुष हैं. इसमें रांची के लोआडीह निवासी डॉ आकांक्षा शिक्षा खलखो के अलावा रीना हांसदा और रोबिनसन गुड़िया ने सफलता अर्जित की है. तीनों आदिवासी युवाओं के इस सफलता पर सभी ने बधाई दी है.