30 करोड़ से बनेगी स्मार्ट सिटी की टूटी सड़कें और गलियां

30 करोड़ से बनेगी स्मार्ट सिटी की टूटी सड़कें और गलियां-Panchayat Times
30 करोड़ से बनेगी स्मार्ट सिटी की टूटी सड़कें और गलियां

हरियाणा. बारिश से स्मार्ट सिटी की टूटी सड़कें और गलियों को नगर निगम जल्द बनाएगा. इसके अलावा जहां जलभराव हुआ है, उन इलाकों में पानी निकासी के लिए नाले बनाए जाएंगे. वहीं, शहर के अधिकाशं पार्कों में लोगों की सहूलियत के लिए चारदिवारी से लेकर बैंच लगाने का काम भी होगा.

निगम प्रशासन ने ऐसे कार्यों के लिए करीब 70 टेंडर कर दिए हैं, जिनमें करीब 30 करोड़ रुपए के विकास कार्य होंगे. खास बात यह है कि 90 फीसदी से ज्यादा टेंडर अगस्त के आखिरी सप्ताह तक खोल दिए जाएंगे.

फरीदाबाद नगर निगम 30 करोड़ के विकास कार्य करेगा

विकास कार्य जल्द शुरू करवाए जा सकें. नगर निगम की तरफ से किए गए करीब 30 करोड़ रुपए के 70 टेंडरों में करीब 60 फीसदी सड़क-गलियां, चारदिवारी आदि से जुड़े हैं. कई कॉलोनियों में इसका तीन करोड़ रुपए तक का बजट रखा गया है.

नगर निगम पानी के करीब 70 ट्यूबवेलों को निजी हाथों में देगा

निगम प्रशासन ने कमोबेश सभी विधानसभा क्षेत्रों में विकास कार्य करवाने के लिए टेंडर किए हैं. नगर निगम पानी के करीब 70 ट्यूबवेलों को निजी हाथों में देगा. इसके लिए करीब करीब एक करोड़ तीस लाख रुपए का बजट रखा है. इच्छुक कंपनियों से टेंडर मांगे गए हैं. इनमें वार्ड-27 में ही 27 ट्यूबवेल हैं और इनके लिए 55 लाख रुपए का बजट रखा है.

इसके अलावा वार्ड-22 के ट्यूबवेलों को भी दिया जाएगा, जिनके लिए करीब 74 लाख रुपए का बजट रखा है. बदरपुर के साथ लगती दिल्ली और हरियाणा की सीमा पर नगर निगम दिवार खड़ी करेगा. इस पर करीब दो करोड़ सात लाख रुपए खर्च किए जाएंगे. इसकी लागत निगम ही वहन करेगा. दिल्ली सरकार से इसका खर्चा लिया जाएगा? इस सवाल का कोई जवाब फिलहाल निगम अधिकारी नहीं दे पा रहे हैं.

गौरतलब है कि बसंतपुर के साथ लगती जमीन को लेकर दिल्ली और नगर निगम के बीच काफी समय से विवाद चल रहा है. नगर निगम का दावा है कि दिल्ली सरकार हरियाणा की सीमा में बढ़ रही है. इसके अलावा गंदा पानी भी दिल्ली की तरफ से हरियाणा में आ रहा है.

इसकी पैमाइश को लेकर भी काफी समय से पत्राचार चल रहा है. रविवार को निगम के प्रवक्ता ने बताया कि 2 करोड़ रुपए की लागत से वार्ड 24 के सूर्या विहार और विनय नगर में गलियों में इंटरलॉकिंग टायल्स लगेगी वहीं 2.6 करोड रुपए की लागत से जगमाल एंक्लेव, मस्जिद वाली गली में इंटरलॉकिंग टायल्स लगाई जाएंगी. इसके अलावा 95 लाख रुपये की लागत से गणपति कॉलोनी, विनय नगर कॉलोनी इंटरलॉकिंग टायल्स लगाई. जाएंगी वहीं 70 लाख रुपए की लागत से सेक्टर-37, अशोक एंकलेव के पार्कों में होगा निर्माण कार्य होगा.

इसके अलावा 94 लाख रुपए की लागत से श्रमिक विहार, एतमातपुर, स्प्रिंग फिल्ड कॉलोनी, सेक्टर-29 के पार्कों में विकास कार्य करवाए जाएंगे. इसके अलावा 2 करोड़ रुपए की लागत से बल्लभगढ़ की तिरखा कॉलोनी में विकास कार्य होंगे. 3 करोड़ रुपये की लागत से सेक्टर-19, ओल्ड फरीदाबाद में विकास कार्य होंगे. वहीं 2.7 करोड़ रुपए की लागत से दिल्ली-हरियाणा की सीमा पर दुर्गा बिल्डर के नजदीक चारदिवारी होगी.

75 लाख रुपए की लागत से स्प्रिंग फील्ड कालोनी में सामुदायिक केंद्र और अन्य विकास कार्य होंगे. 4 लाख रुपए की लागत से सेक्टर-15 में मदर डेयरी के पास रेन वाटर हारवेस्टिंग लगाया जाएगा. 47 लाख रुपए की लागत से सेक्टर-14 और 15 के सेंट्रल पार्क में एसटीपी प्लांट लगाया जाएगा. इसके अलावा 1.11 करोड़ रुपए की लागत से वार्ड-6 के अटल चौक के पास नाले का निर्माण किया जाएगा. 1.9 करोड़ रुपए की लागत से सोहना रोड के साथ नाला बनाया जाएगा.