‘प्रशासन जनता के द्वार’ कार्यक्रम में 68 मामलों पर मौके पर निपटारा

शिमला. जिला शिमला की दूर दराज पंचायत ओगली के जलोग में मंगलवार को जिला प्रशासन शिमला की ओर से ‘प्रशासन जनता के द्वार’ कार्यक्रम आयोजित किया गया. इस कार्यक्रम में अतिरिक्त उपायुक्त शिमला देवाश्वेता बनिक, उपमंडलाधिकारी शिमला ग्रामीण अनिल शर्मा और अन्य वरिष्ठ अधिकारी विशेष रूप से मौजूद रहे.

इस कार्यक्रम में विभिन्न विभागों से संबंधित 103 आवेदन और शिकायतें प्राप्त हुई, जिनमें से 68 का मौके पर निपटारा किया गया तथा 35 को जरूरी कार्रवाई के लिए विभिन्न विभागों को भेजा गया.

देवाश्वेता बनिक ने कहा कि इस कार्यक्रम के आयोजन का मुख्य उद्देश्य जिला के दूर दराज के क्षेत्रों के लोगों की विभिन्न समस्याओं तथा शिकायतों का मौके पर निवारण करना है, ताकि प्रदेश सरकार की ओर से प्रदान की जा रही विभिन्न सुविधाओं तथा योजनाओं का लाभ उनको समयबद्ध प्रदान करना सुनिश्चित किया जा सके.

इस कार्यक्रम के माध्यम से अधिकारियों को दूर दराज क्षेत्र के लोगों की समस्याओं के बारे में पूरी जानकारी भी प्राप्त होती है. उनके निवारण के लिए मौके पर ही निर्णय लिये जा सकते हैं. इस कार्यक्रम के तहत सिंचाई एवं जन स्वास्थ्य विभाग से संबंधित 30, लोक निर्माण विभाग से संबधित 15, विद्युत बोर्ड से संबंधित 15, राजस्व विभाग से संबंधित 15, शिक्षा विभाग से संबंधित 10 तथा स्वास्थ्य, पशुपालन, कृषि, बागवानी, वन एवं अन्य विभागों से संबंधित 18 शिकायतें और आवेदन प्राप्त हुए.

उन्होंने बताया कि कार्यक्रम के दौरान लगभग 112 विभिन्न प्रमाण-पत्र जारी किए गए. कार्यक्रम में 30 इंतकाल, 15 पेंशन फाॅर्म सत्यापन, 10 टीडी फाॅर्म सत्यापन, 36 अन्य प्रमाण-पत्र तथा चार एफेडेविट मौके पर बनाए गए.

इस अवसर पर बीडीओ बसंतपुर  शांति चैहान ने ब्लाॅक के तहत विभिन्न कार्यों के संबंध में जानकारी दी. जिला कल्याण अधिकारी प्रताप नेगी ने सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता विभाग के माध्यम से विभिन्न पेंशनों के बारे में तथा इन्हें प्राप्त करने की प्रक्रिया के संबंध में जानकारी दी.

एसडीओ विद्युत बोर्ड जे सी वर्मा ने मीटर लगवाने की प्रक्रिया के बारे तथा उप निदेशक बागवानी सुभाष चंद ने बागवानी के संबंध में कल्याणकारी योजनाओं तथा कृषि विषय वार्ता विशेषज्ञ रामकृष्ण चैहान ने कृषि विभाग संबंधी योजनाओं की जानकारी दी.

कार्यक्रम का संचालन उपमंडलाधिकारी ग्रामीण अनिल शर्मा ने किया. सुन्नी ब्लाॅक से संबंधित विभिन्न विभागों के लगभग 40 अधिकारी कार्यक्रम में उपस्थित थे.ओगली पंचायत की प्रधान विद्या शांडिल ने मुख्य अतिथि का स्वागत किया. उन्होंने बताया कि ओगली, धरोगड़ा, बाग, हिमरी, करियाली, बसंतपुर, जूणी, रेवग तथा च्योड़ी पंचायत के 250 से अधिक लोगों ने कार्यक्रम में भाग लिया.

इस अवसर पर प्रधान ग्राम पंचायत करियाली सुनीता, धरोगड़ा पंचायत के प्रधान हेमराज कपिला, हिमरी पंचायत के प्रधान जगदीश वर्मा, बाग पंचायत के प्रधान एनडी वर्मा, मझयाड़ पंचायत के प्रधान प्रेम प्रकाश शर्मा, ओगली हिमरी पंचायत समिति सदस्य पूनम कश्यप, जिला परिषद के पूर्व उपाध्यक्ष हेतराम गायत्री, भाजपा नेता रतिराम शांडिल व पंचायती राज संस्थाओं के पदाधिकारी तथा अन्य गणमान्य लोग भी उपस्थित थे.