हिमाचल में फिर से ठंड का कहर जारी, कई जिलों में हाई अलर्ट

हिमाचल में अंधड़ और बर्फबारी को लेकर छह जिलों में येलो अलर्ट जारी-Panchayat Times
साभार इंटरनेट

शिमला. हिमाचल प्रदेश में ठंड के तेवर तल्ख बने हुए हैं. पहाड़ों के साथ-साथ मैदानी इलाकों में पारा रोज लुढ़क रहा है. सूबे के आठ शहरों में शनिवार को न्यूनतम तापमान माइनस में रिकॉर्ड किया गया. इनमें पर्यटन स्थल कुफरी व मनाली शामिल हैं.

 मौसम विभाग ने समूचे प्रदेश में 12 से 16 जनवरी तक बारिश व बर्फबारी की संभावना जताई है, जिससे ठंड का प्रकोप और बढ़ेगा. मौसम विज्ञान केंद्र शिमला के निदेशक मनमोहन सिंह ने शिमला, कुल्लू, चंबा, लाहौल स्पीति और किन्नौर जिलों में 13 जनवरी को भारी बर्फबारी की संभावना को लेकर नारंगी अलर्ट जारी किया है. लाहौल-स्पीति जिला का मुख्यालय केलंग राज्य में सबसे ठंडा बना हुआ है. शनिवार को केलंग में न्यूनतम तापमान -14.3 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया. किन्नौर का कल्पा दूसरा ठंडा स्थल रहा, जहां पारा -5.5 डिग्री रहा.

 शिमला से सटे पर्यटन स्थल कुफरी में भी ठंड ने कहर बरपाया और यहां पारा -4 डिग्री जबकि मनाली में -2.8 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड हुआ. सियोबाग में न्यूनतम तापमान -1.5 डिग्री, भुंतर में -0.5 डिग्री और सुन्दरनर व सोलन में -0.4 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया. इसके अलावा चंबा में 0.7, मंडी में 1.2, पालमपुर में 1.4, कांगड़ा में 2.2, धर्मशाला में 2.6, हमीरपुर में 2.7, बिलासपुर व शिमला में 3, डलहौजी में 3.6, जुब्बड़हट्टी में 3.8, ऊना में 4 और नाहन में 6.6 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया. 

इस बीच पिछले दिनों भारी बर्फ़बारी से अवरुद्ध राज्य की सैंकड़ो सड़कों को अवरुद्ध करने का कार्य युद्धस्तर पर चल रहा है. पर्वतीय इलाकों की 800 से अधिक सड़कों पर पिछले तीन दिन से आवागमन ठप्प पड़ा है. अकेले शिमला जिला में 500 सड़कें बंद हैं. 

माध्यमPT DESK
शेयर करें