शिमला में आगजनी की घटना से गराज जलकर हुई राख

आईजीएमसी अस्पताल के कमरे में शाट सर्किट से लगी आग-Panchayat Times
प्रतीक चित्र

 शिमला. राजधानी शिमला में संकटमोचन के निकट शिमला-कालका नेशनल हाईवे के किनारे आगजनी की घटना में एक गैराज राख हो गया. गैराज के बाहर खड़ी एक कार भी आग की चपेट में आने से जल गई. इस दौरान गैराज के अंदर रखे बैल्डिंग के सिलेंडर में भी ब्लास्ट हुआ.

सोमवार सुबह चार बजे हुए इस अग्निकांड में कोई हताहत नहीं हुआ, लेकिन लाखों की संपत्ति को नुकसान पहुंचा है. दमकल कर्मियों ने एक घंटे की कड़ी मशक्कत के बाद आग पर काबू पाया. आगजनी की यह घटना संकटमोचन में एशिया द डाॅन हाॅटल के निकट तेजेंद्र सिंह के प्रिंस आटो मोबाइल गैराज में पेश आई. इसका खुलासा तब हुआ, जब गैराज के अंदर से सिलेंडर फटने का धमाका हुआ. इसके बाद मौके पर एकत्रित हुए लोगों ने अग्निशमन विभाग को सूचित किया. लेकिन दमकल वाहनों के घटनास्थल पर पहुंचने से पहले ही गैराज और इसके बाहर पार्क एक कार धू-धू कर राख हो गई थी. आग की जद में आई कार स्थानीय वकील की बताई जा रही है.

हिमाचल : 31 मार्च को चार जगह पर होंगे ’’मैं भी चौकीदार’’ कार्यक्रम

मुख्य अनिशमन अधिकारी धर्म चंद शर्मा ने बताया कि बालूगंज, माॅल रोड और छोटा शिमला दमकल केंद्रों से पहुंचे छह दमकल वाहनों की मदद से आग को नियंत्रित किया गया. उन्होंने कहा कि आग से किसी तरह का जानी नुकसान नहीं हुआ है.
उधर शिमला के एएसपी मनमोहन ने बताया कि मामला दर्ज कर लिया गया है और आगजनी के कारणों की पड़ताल की जा रही है.