16वीं जनगणना की तैयारी में जुटा हिमाचल प्रदेश

16वीं जनगणना तैयारी में जूटा हिमाचल प्रदेश-Panchayat Times
साभार इंटरनेट

शिमला. भारत की 16वीं जनगणना का कार्य वर्ष 2021 में किया जाना है. जिसे लेकर हिमाचल प्रदेश में प्रारंभिक तैयारियां शुरू हो गई हैं. मुख्य सचिव अनिल कुमार खाची ने बुधवार को राज्य सचिवालय में जनगणना वर्ष 2021 के प्रभावी क्रियान्वयन के लिए गठित राज्य स्तरीय समन्वय समिति की बैठक की अध्यक्षता की.


अनिल कुमार खाची ने कहा कि जनगणना कार्य में पारदर्शिता और सही जानकारी के संकलन के लिए राज्य में जनगणना 2021 का अधिकतम कार्य मोबाइल ऐप के माध्यम से संपादित कराया जाएगा. जानकारियों का संकलन आनलाइन और ऑफलाइन दोनों तरीकों से किया जा सकेगा. फरवरी व मार्च माह में उपायुक्तों, जिले के अन्य अधिकारियों को जनगणना के कार्य का विस्तृत प्रशिक्षण दिया जाएगा.

निदेशक जनगणना ने सूचित किया कि जनगणना कार्यालय कि ओर से हिमाचल प्रदेश में 18 मास्टर ट्रेनर को नवम्बर 2019 में प्रशिक्षण दिया जा चुका है, जो मार्च 2020 में जिला स्तर पर सभी जिलों में लगभग 418 फील्ड ट्रेनर को प्रशिक्षण देंगे. इनकी ओऱ से अप्रैल महीने में राज्य के लगभग 19500 प्रगणकों व पर्यवेक्षको को जनगणना 2021 का कार्य करने के लिए प्रशिक्षित दिया जाएगा.

निदेशक जनगणना ने जानकारी दी कि प्रगणक अपने मोबाइल का उपयोग कर मोबाइल ऐप के माध्यम से जनगणना का कार्य सम्पादित करेंगे. मोबाइल के माध्यम से जनगणना कार्य करने वाले प्रगणकों को लगभग 25 हजार और पेपर पर कार्य करने वाले प्रगणकों को लगभग 17 हजार रुपये मानदेय डीबीटी माध्यम से ही उनके खाते में भेजा जाएगा. मोबाइल ऐप से जनगणना का कार्य संपादित होने से जनगणना संबंधी आंकड़े शीघ्रता से जारी किए जा सकेंगे.

माध्यमPT DESK
शेयर करें