‘मणिकर्णिका’ की सफलता के लिए मंडी के मंदिर पहुंची कंगना

हिमाचली महिलाओं के बारे में जिन्होंने फिल्मी दुनिया में अपनी अलग कहानी लिखी - Panchayat Times
मणिकर्णिका’ की सफलता के लिए मंडी के मंदिर पहुंची कंगना

मंडी. बॉलीवुड की क्वीन कंगना रनौत ने अपने पैतृक गांव धबोईं में कुल देवी अंबिका माता का भव्य मंदिर बनवाया. माता के मंदिर में कंगना रनौत ने राजस्थान से आए हुए पंडितों से प्राण प्रतिष्ठा और हवन, पूजा पाठ करवाया. कंगना के पिता ने बताया कि मंदिर में सारी सामग्री राजस्थान से लाई गई है.

इसको सिर्फ यहां जोड़ा गया है और इस तरह की वास्तुकला का यह पहला मंदिर है. वहीं माता के मंदिर बनाने पर उनके दादा ने बताया कि हमारे पूर्वज राजस्थान से यहां आए थे. इसलिए हमें अपनी कुल देवी के बारे में ज्यादा जानकारी नहीं थी. परंतु माता ने स्वयं कई बार सपने में आकर बताया और जब उनकी पोती कंगना रनौत राजस्थान में फिल्म की शूटिंग कर रही थी और जहां वह शूटिंग कर रही उसके नजदीक ही माता अंबिका का प्राचीन है. जहां वह गई और वहीं से ही मंदिर बनाने की प्ररेणा प्राप्त हुई.

'मणिकर्णिका' की सफलता के लिए मंडी पहुंची कंगना
कंगना रानौत मंदिर में मथा ठेकते हुए

कंगना रनौत के दादा वी सी रनौत ने बताया कि कंगना अपने पैतृक गांव धवोई में 2014 में आई थी. उसके बाद बुधवार को दिन में एक बजे करीब यहां आई और अपने पैतृक गांव वालों से भी मिली. कंगना से जब मंदिर पर आए खर्च के बारे में पूछा गया तो उन्होंने कहा कि भावना का हिसाब पैसे से नहीं लगाया जा सकता है. कंगना ने करीब पांच घंटे माता के मंदिर में बिताए और पूजा अर्चना कर मां का आशीर्वाद प्राप्त किया.

बता दें कि कंगना की फिल्म ‘मणिकर्णिका’ 25 जनवरी को रिलीज होने वाली है. इस फिल्म में कंगना ने झांसी की रानी का किरदार निभाया है.