झामुमो का गढ़ रहा है सरायकेला विधानसभा

झामुमो का गढ़ रहा है सरायकेला विधानसभा-Panchayat Times

सरायकेला. सरायकेला विधानसभा क्षेत्र झारखंड मुक्ति मोरचा (झामुमो) का गढ़ माना जाता है. यहां से झामुमो के दिग्गज नेता चंपई सोरेन तीन बार से लगातार विधानसभा चुनाव जीत रहे हैं. पिछले चुनाव में चंपई सोरेन ने भाजपा प्रत्याशी गणेश महाली को महज 1200 वोटों से हराया था. जानकार मान रहे हैं कि इस बार भी दोनों प्रत्याशियों के बीच मुकाबला जोरदार होगा.

झमुमों प्रत्याशी चंपई सोरेन भाजपा सरकार द्वारा विपक्ष के विधायकों के काम में रोड़ा अटकाने को विकास में बाधक बता रहे हैं. वहीं, भाजपा प्रत्याशी महाली विधायक का विकास को लेकर गंभीर नहीं होने की बात कर रहे हैं.

पिछले पांच साल में भाजपा ने संगठन और बूथ स्तर पर विधानसभा क्षेत्र में लगातार कई कार्यक्रम चलाए हैं. इस कारण पार्टी अपने मजबूत संगठन और बूथ पर पकड़ के बल पर सरायकेला विधानसभा सीट को अपनी झोली में डालना चाहती है. वहीं, अपनी परंपरागत सीट को बचाने के लिए यहां झामुमो रणनीती बनाने में जुटी हैं. दूसरी ओर भाजपा झामुमो के किलो को फतह करने में कोई कसर नहीं छोड़ना चाहती. सारयकेला विधानसभा क्षेत्र में गांवों से लेकर शहर तक सड़क और पुल-पुलिया तो बने हैं लेकिन अब भी खेतों तक पानी नहीं पहुंच पाया है। खेती-बरी के लिए किसान अब भी वर्षाजल पर ही निर्भर हैं, जो चुनाव मुद्दा बन सकता है. शिक्षा, स्वास्थ्य पेयजल और रोजगार जैसी बुनियादी सुविधाओं के मामलों में आज भी सरयाकेला विधानसभा क्षेत्र काफी पीछे है.

सरायकेला विधानसभा सीट पर मतदान : 7 दिसंबर, 2019

सरायकेला विधानसभा सीट के 2014 के विजेता कैंडिडेट: झारखण्ड मुक्ति मोर्चा के चम्पई सोरेन

सरायकेला विधानसभा सीट पर सभी उम्मीदवारों की लिस्ट :
बिश्वीत मर्दी – झारखंड मुक्ति मोर्चा
गणेश महाली – भाजपा
अंनत राम टुडु – एजेएसयू पार्टी
सत्यनारायण गोंड – जेडीयू
अनिल सोरेन – झारखंड मुक्ति मोर्चा
चंपाई सोरेन – झारखंड मुक्ति मोर्चा
रविन्द्र ओरोन – बसपा
बिश्व विजयी मार्डी – निर्दलीय