आईजीएमसी शिमला में पहली बार हुआ किडनी ट्रांसप्लांट का सफल ऑपरेशन

आईजीएमसी शिमला में पहली बार हुआ किडनी ट्रांसप्लांट का सफल ऑपरेशन-Panchayat Times
शिमला. प्रदेश स्तरीय स्वास्थ्य संस्थान आईजीएमसी शिमला ने किडनी ट्रांसप्लांट का सफल ऑपरेशन कर बड़ी उपलब्धि हासिल की है. सोमवार को दिल्ली एम्स के टांसप्लांट सर्जन डा. विरेंद्र कुमार बंसल और 18 सदयीय टीम के नेतृत्व में आईजीएमसी में किडनी ट्रांसप्लांट के दो ऑपरेशन किए गए। जिसमें एक पिता की किडनी को उनकी बेटी में ट्रांसप्लांट किया गया और एक मां की किडनी को उनके बेटे में ट्रांसप्लांट किया गया. इसमें आईजीएमसी की न्यूरोलोजी, नेफरोलोजी और एनेस्थिसिया विभाग के चिकित्सकों व स्टाफ ने एम्स की टीम का सहयोग किया.
 हिमाचल प्रदेश के सरकारी स्वास्थ्य संस्थान में यह पहला मौका है जब किडऩी ट्रांसप्लांट ऑपरेशन को सफलता पूर्वक अंजाम दिया गया है. इस पहले न तो आईजीएमसी और न ही प्रदेश के किसी अन्य सरकारी चिकित्सा संस्थान में ऐसा ऑपरेशन हुआ है.
आईजीएमसी के वरिष्ठ चिकित्सा अधीक्षक डाॅ. जनक राज ने बताया कि यह प्रदेश में पहला मौका है जब किसी सरकारी स्वास्थ्य संस्थान में किडनी ट्रांस्पलांट को सफलता पूर्वक अंजाम दिया गया है. उन्होंने बताया कि इस दौरान दिल्ली एम्स के ट्रांसप्लांट सर्जन डाॅ. विरेंद्र कुमार बंसल के अलावा ट्रांस्पलांट सर्जन डाॅ. कृष्णा, सर्जन डाॅ. आदित्य, एनेस्थिसिया विभाग अध्यक्ष डाॅ. राजेश्वरी सुब्रहमण्यम, एचओडी नेफरोलॉजी डिपार्टमेंट डाॅ. संजय कुमार अग्रवाल सहित स्टाफ नर्स और तकनीकी स्टाफ मौजूद रहा. जिसका आईजीएमसी के न्यूरोलोजी, नेफरोलोजी और एनेस्थिसिया विभाग ने भरपूर सहयोग किया. उन्होंने बताया कि जिन मरीजों का किडनी ट्रांसप्लांट किया गया है. उसमें से एक शिमला और दूसरा मंडी से है. साथ ही ये ऑपरेशन पूरी तरह निशुल्क किए गए हैं.
डाॅ. जनक राज ने बताया कि आईजीएमसी भविष्य में फिर इसी प्रकार किडनी ट्रांस्पलांट के ऑपरेशन करता रहेगा। साथ ही निकट भविष्य में ये ऑपरेशन आईजीएमसी अपने स्तर पर भी करेगा. जिससे प्रदेश के लोगों को किडऩी ट्रांस्पलांट के लिए प्रदेश के बाहर भारी कीमत पर इलाज न करवाना पड़े. उन्होंने कहा कि किडनी ट्रांसप्लांट आयुष्मान भारत योजना और मुख्यमंत्री स्वास्थ्य बीमा योजना के तहत कवर होगा. जिससे मरीज को निशुल्क इलाज मिल सकेगा.प्राप्त जानकारी के अनुसार प्रदेश के तकरीबन डेढ़ सौ मरीज प्रतिवर्ष किडनी ट्रांसप्लांट करवाते हैं.
 इस बीच मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर ने आईजीएमसी में पहले किडऩी ट्रांसप्लांट के सफल ऑपरेशन के लिए आईजीएमसी स्टॉफ को बधाई दी है। ज्ञात रहे कि मुख्यमंत्री ने बजट भाषण में भी किडनी ट्रांसप्लांट की घोषणा की थी, जो अब पूरी हो गई है.उन्होंने इस ऑपरेशन की सफलता के लिए दिल्ली एम्म के डाक्टरों का भी आभार व्यक्त किया है.