हिमाचल में कुना गांव के लोग आज भी सड़क सुविधा से महरूम

रेणुका अंतर्गत आने वाले कुना गांव के लोग आज भी सड़क सुविधा से महरूम-Panchayat Times

नाहन. हिमाचल पर शिखर….! प्रदेश की जय राम सरकार के इन दावों की पोल अक्सर कहीं न कहीं खुलती नजर आती है. आए दिन प्रदेश के किसी न किसी कोने से मरीजों को कंधों पर ढोने के वीडियो सामने आते हैं. अब एक और इसी तरह का वीडियो सिरमौर जिला से एक बार फिर सामने आया है, जहां कंधों पर एंबुलेंस चल रही है, यानी सड़क सुविधा ना होने के कारण मरीज को कंधों पर ढोते हुए मुख्य सड़क मार्ग तक पहुंचाने की कोशिश की जा रही है.

तस्वीरें हैरान कर देने वाली है और सरकार के उन दावों की पोल खोल रही है, जिसमें गांव-गांव तक सड़क पहुंचाने के दावे किए जाते हैं. ग्रामीणों ने सड़क सुविधा ना होने की अपनी समस्या को मीडिया के माध्यम से सरकार तक पहुंचाकर समस्या के जल्द से जल्द समाधान की मांग की है.


मामला रेणुका विधानसभा क्षेत्र के अंतर्गत आने वाले चुनौटी गांव का आया है, जहां मरीज को कंधो पर उठाकर अस्पताल ले जाते हुए ग्रामीणों ने वीडियो बनाकर सरकार तक अपनी समस्या पहुंचाने का प्रयास किया है. इस पूरे मामले में हैरत की बात यह है कि उक्त गांव के लिए सड़क का शिलान्यास वर्ष 2015 में हो चुका है. सड़क का लगभग आधा कार्य पूरा भी हो चुका है.

स्थानीय लोगों की माने तो ठेकेदार को तकरीबन 20 लाख रुपए कार्य के नहीं मिले है, जिस वजह से ठेकेदार ने सड़क का कार्य बंद कर दिया है. ऐसे में स्थानीय लोगों को किसी भी आपातकालीन स्थिति में मरीज को कंधों पर उठाकर अस्पताल तक पहुंचाना पड़ रहा है. लोगों ने सरकार से मांग की है कि इस समस्या का जल्द समाधान किया जाए, ताकि उन्हें सड़क की सुविधा मिल सके.