दीन दयाल उपाध्याय ग्रामीण कौशल्य योजना के तहत अब तक 10.51 लाख युवाओं को किया गया प्रशिक्षित

दीन दयाल उपाध्याय ग्रामीण कौशल्य योजना के तहत अब तक 10.51 लाख युवाओं को किया गया प्रशिक्षित - Panchayat Times

नई दिल्ली. 25 सितंबर, 2020 को अंत्योदय दिवस के अवसर पर भारत सरकार के ग्रामीण विकास मंत्रालय ने दीन दयाल उपाध्याय ग्रामीण कौशल्य योजना का स्थापना दिवस मनाया. सरकार का दावा है कि इस योजना के माध्यम से अब तक 10.51 लाख युवाओं को प्रशिक्षित कर 6.65 लाख युवाओं को सफलतापूर्वक रोजगार से जोड़ा गया है.

एग्रीप्रेन्योरशिप प्रोग्राम (Agripreneurship Program):

इस अवसर पर ग्रामीण विकास मंत्री ने ‘एग्रीप्रेन्योरशिप प्रोग्राम’ (Agripreneurship Program) का उद्घाटन किया तथा इस कार्यक्रम के दौरान निम्नलिखित का विमोचन किया.

  1. डीडीयू-जीकेवाई के तहत कैप्टिव रोजगार के दिशा-निर्देश
  2. एकीकृत कृषि क्लस्टर (आईएफसी) के प्रोत्साहन के लिए दिशा-निर्देश
  3.  डीडीयू-जीकेवाई के उम्मीदवारों की सफलता की कहानियों का संग्रह  

दीन दयाल उपाध्याय ग्रामीण कौशल्य योजना के स्थापना दिवस को ‘कौशल से कल बदलेंगे’ कार्यक्रम के रूप में मनाया गया है.

दीन दयाल उपाध्याय ग्रामीण कौशल्य योजना गरीब ग्रामीण युवाओं को नौकरियों में नियमित रूप से न्यूनतम मजदूरी के बराबर या उससे अधिक मासिक मजदूरी प्रदान करने का लक्ष्य रखती है. यह ग्रामीण विकास मंत्रालय, भारत सरकार के द्वारा ग्रामीण आजीविका को बढ़ावा देने के लिये की गई पहलों में से एक है.