पत्रकार गौरी लंकेश हत्याकांड का आरोपी धनबाद से गिरफ्तार

पत्रकार गौरी लंकेश हत्याकांड का आरोपी धनबाद से गिरफ्तार - Panchayat Times

धनबाद. पत्रकार गौरी लंकेश हत्याकांड का आरोपी नंबर 18 ऋषिकेश देवडीकर उर्फ मुरली उर्फ राजेश देश की कोयला राजधानी धनबाद में पिछले 15 महीने से अपनी पहचान छिपाकर रह रहा था. इसका खुलासा तब हुआ जब बेंगलूरु की एसआईटी ने धनबाद पुलिस की मदद से कतरास इलाके में छापा मारकर ऋषिकेश को गिरफ्तार किया गया. फिलहाल बेंगलूरु एसआईटी ऋषिकेश को ट्रांजिट रिमांड पर अपने साथ बेंगलूरु ले जा रही है.

हत्याकांड में अमोल काले की प्रमुख भूमिका

44 वर्षीय ऋषिकेश देवडीकर का नाम गौरी लंकेश हत्याकांड में अनुसंधान के दौरान सामने आया था. गौरी लंकेश हत्याकांड का यह 18वां आरोपी है. एसआईटी के अबतक के जाँच के अनुसार इस हत्याकांड में अमोल काले की भूमिका प्रमुख रही है. जबकि ऋषिकेश इस हत्यकांड में साजिशकर्ता के रूप में शामिल रहा है. इंस्पेक्टर पुनीत के नेतृत्व में धनबाद पहुंची एसआईटी को ऋषिकेश की पत्रकार हत्याकांड के अलावे चार अलग अलग मामलों में भी तलाश थी. इसके ऊपर सामाजिक संस्था से जुड़े चार लोगों की हत्या का मामला भी दर्ज है. बेंगलूरु एसआईटी इसे पिछले डेढ़ साल तलाश रही थी. और यह पिछले 15 महीनों से धनबाद के कतरास क्षेत्र में पहचान छिपाकर रह रहा था.

लोकेशन के आधार पर की गिरफ्तारी

बेंगलुरु पुलिस ने ऋषिकेश की गिरफ्तारी मोबाइल टावर लोकेशन के आधार पर की. कर्नाटक की एसआईटी टीम कल यानि गुरुवार धनबाद पहुंची और धनबाद पुलिस से मामले में सहयोग मांगा. इसके बाद टीम ने कतरास पुलिस की मदद से कतरास के भगत मोहल्ले में छापेमारी कर ऋषिकेश देवडीकर उर्फ़ राजेश नामक शख्स को हिरासत में ले लिया. छापेमारी के दौरान पुलिस ने उसके कमरे की तलाशी ली.