सोलन शहर की खूबसूरती पर ग्रहण लगा रहे विज्ञापन

सोलन. सोलन शहर अपनी सुंदरता के लिए जाना जाता है, लेकिन शहर की सुंदरता को ग्रहण लगता जा रहा है. शहर में प्रवेश करते ही चारों ओर लगे विज्ञापन सैलानियों का स्वागत करते नजर आते हैं. शहर में ज्यादातर अवैध रूप से विज्ञापन लगे हुए है जो शहर के प्राकृतिक सौन्दर्य को कम कर रहे है. लेकिन नगर परिषद की ओर से कोई कार्रवाई अमल में नहीं लाई जा रही है.

हैरानी वाली बात यह है कि नगर परिषद ने शहर में विज्ञापन लगाने के लिए किसी को भी अधिकृत नहीं किया है, लेकिन इसके बावजूद भी विज्ञापन धड़ल्ले से लगाए जा रहे हैं.

जब इस बारे में नगर परिषद अध्यक्ष दवेंद्र ठाकुर से पूछा गया तो उन्होंने माना कि शहर में अवैध रूप से विज्ञापनों को लगाया जा रहा है. सुप्रीम कोर्ट के दिशा निर्देश के अनुसार नगर परिषद माह में चार बार अभियान चला कर इन विज्ञापनों को फाड़ती है, लेकिन लोग फिर से विज्ञापन लगा देते है. उन्होंने कहा कि लोग रोज़ नए विज्ञापन लगा कर नगर परिषद के लिए समस्याएं खड़ी करते है.

गौरतलब है कि विज्ञापनकर्ता शहर में जगह-जगह विज्ञापन लगाकर लाखों रूपये का मुनाफा कमा रहे हैं और नगर परिषद महज औपचारिकताएं पूरी करते हुए उन विज्ञापनों को फाड़ने का काम कर रहा है.