बच्चों के लिए नीले रंग का बनेगा ‘बाल आधार’, ऐसे करें अप्लाई

नई दिल्ली. भारतीय विशिष्ट पहचान प्राधिकरण ने 5 साल से कम उम्र के बच्चों के लिए नीले रंग का ‘बाल आधार’ कार्ड तैयार किया है. इसकी जानकारी यूआईडीएआई ने अपने ट्वीटर अकाउंट से दी.

किसी एक का चाहिए होगा आधार नंबर

बाल आधार बनवाने के लिए माता या पिता किसी एक का आधार नंबर और बच्चे का जन्म प्रमाण पत्र ज़रूरी होगा. वहीं 5 साल से कम उम्र के बच्चों के लिए बायोमीट्रिक डीटेल्स की ज़रुरत नहीं होगी. पंजीकरण की सुविधा अस्पताल में भी मिलेगी.

 

इस आधार में दो बार अपडेट की ज़रूरत होगी. पहले जब बच्चे का पांच साल पूरा होगा तो अपडेट कराना होगा. यदि 7 साल की उम्र तक इसे अपडेट नहीं कराया गया तो यह अपने आप निरस्त हो जाएगा. वहीं दूसरी बार 15 साल की आयु में अपडेट कराने की ज़रूरत होगी.

बाल आधार बनाने के लिए आधार सेंटर जाकर फॉर्म भरें. बच्चे का बर्थ सर्टिफिकेट माता-पिता में से किसी भी एक पैरेंट का आधार नंबर देना होगा. मोबाइल नंबर भी दें. आवेदक की उम्र 5 साल से कम होने पर उसके बायोमेट्रिक की जरूरत नहीं होगी.

 

वही पांच साल के बाद बच्चे का फ़ोटो क्लिक किया जाएगा. बच्चे का ‘आधार’ उसके माता या पिता के आधार कार्ड से लिंक किया जाएगा. कन्फर्मेशन के बाद स्वीकृति पर्ची मिलेगी. वही जब ये सारी प्रक्रिया पूरी हो जाएगी तो रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर पर संदेश प्राप्त हो जाएगा.

विदेश में बच्चे की शिक्षा और स्कॉलरशिप हासिल करने के लिए बाल आधार जरूरी होगा.