बाबूलाल मरांडी भाजपा में हो सकते है शामिल!

दिल्ली चुनाव के बाद भाजपा में वापसी करेंगे बाबूलाल मरांडी - Panchayat Times
प्रतीक चित्र :बाबूलाल मरांडी

रांची.

झाविमों प्रमुख बाबूलाल मरांडी को भाजपा ने अपनी पार्टी में लाने की कोशिश शुरू कर दी है. सूत्रों का दावा है कि 30 दिसंबर को बाबूलाल की दिल्ली में पीएमओ में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और भाजपा अध्यक्ष अमित शाह से भेंट हुई. इसमें बाबूलाल के भाजपा में आने पर बातचीत हुई. अगर वह पार्टी में शामिल हुए तों उन्हें भाजपा विधायक दल का नेता बनाया जा सकता है. विधानसभा चुनाव परिणाम घोषित होने के बाद झाविमों ने हेमंत सोरेन सरकार को समर्थन दे रखा है.

सूत्रों का कहना है कि झाविमों के दो अन्य विधायक प्रदीप यादव और बंधु तिर्की भाजपा में जाने को तैयार नहीं हैं. क्योंकि दोनों विधायकों की कांग्रेस से नजदीकी बताई जा रही है. बंधु तिर्की ने कहा-वह न तो भाजपा और न ही कांग्रेस या अन्य पार्टी में जा रहे हैं. क्या बाबूलाल भाजपा में जाएंगे, इस पर उन्होंने कहा कि वे बड़े नेता हैं. इस पर मैं कुछ नहीं कहूंगा. भाजपा में जाने के मामले में मैं उनके साथ नहीं हूं.

भाजपा चाहती है कि विधानसभा में एक ऐसा आदिवासी चेहरा लाया जाए, जो सरकार को दे सके टक्कर

आदिवासी चेहरा होने पर हेमंत सोरेन सरकार पर अटैक करने का भी भाजपा को लाभ मिले. वहीं पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष का पद किसी गैर आदिवासी को देने पर विचार हो रहा है. यह सारा मामला भाजपा के शीर्ष स्तर पर चल रहा है. उधर, बाबूलाल मरांडी ने भाजपा में जाने की बात से साफ इनकार कर दिया. उन्होंने कहा कि यह सूचना गलत है. मैं भाजपा में नहीं जा रहा.