दिल्ली चुनाव के बाद भाजपा में वापसी करेंगे बाबूलाल मरांडी

दिल्ली चुनाव के बाद भाजपा में वापसी करेंगे बाबूलाल मरांडी - Panchayat Times
प्रतीक चित्र :बाबूलाल मरांडी

रांची. दिल्ली विधानसभा चुनाव के बाद भाजपा अध्यक्ष जगत प्रकाश नड्डा की माैजूदगी में झाविमाे प्रमुख बाबूलाल मरांडी की भाजपा में वापसी हाेगी. नड्डा और बाबूलाल की मुलाकात के दाैरान रांची में बड़ा कार्यक्रम आयाेजित कर झाविमाे का भाजपा में विलय करने पर सहमति बनी है.

नड्डा ने इस कार्यक्रम में शामिल हाेने पर सहमति दे दी है. अमित शाह के भी आने की उम्मीद है. यह कार्यक्रम रांची में 11 फरवरी के बाद कभी भी हाे सकता है.

बाबूलाल ने सभी जिला और महानगर अध्यक्षाें काे 10 दिन के भीतर कमेटी बनाने काे कहा है ताकि कार्यक्रम में अधिक से अधिक लाेग जुट सकें. रांची लाैटने के बाद पार्टी कार्यसमिति की बैठक बुला सकते हैं, जिसमें विलय का प्रस्ताव लाया जा सकता है.

मरांडी ने सभी जिलाध्यक्षों को जल्द कमेटी बनाने दिया है निर्देश

मरांडी ने पार्टी के सभी जिलाध्यक्षों, महानगर अध्यक्षों को सप्ताह से 10 दिन के अंदर कमेटी बनाने का निर्देश दिया है. इसका मकसद यह है कि ज्वाइनिंग कार्यक्रम में कार्यकर्ताओं का अधिक से अधिक लोगों का जुटान हो सके. मरांडी वापसी कार्यक्रम को ऐतिहासिक बनाना चाहते हैं.

प्रदीप यादव को मनाने का होगा प्रयास नहीं तो पार्टी से छुट्‌टी

सूत्रों के मुताबिक, मरांडी विधायक प्रदीप यादव को मनाने का प्रयास करेंगे, अगर वे नहीं मानते हैं तो बंधु तिर्की की तर्ज पर उनकी भी पार्टी से छुट्‌टी हो सकती है. इसको लेकर मरांडी तकनीकी पहलुओं और पार्टी संविधान का गहन अध्ययन करा रहे हैं.

मरांडी इस प्रयास में जुटे हैं कि पार्टी विलय के बाद उनके समेत अन्य दो विधायकों पर कोई पेच न खड़ा हो सके. इसको लेकर मरांडी ने अपने पार्टी अधिवक्ता मंच के वकीलों को लगाया है.