किसानों की मेहनत जली, 35 बीघा गेहूं की फसल राख

बद्दी के पास गांव गुल्लरवाला में 35 बीघा खेत आग की चपेट में आ गई

दून (सोलन). औद्योगिक क्षेत्र बद्दी के पास गांव गुल्लरवाला में 35 बीघा खेत आग की चपेट में आ गया . बिजली के तारों में शॉर्ट सर्किट के कारण आग लगने से गेहूं की फसल जलकर तबाह हो गई है. जबकि दमकल कर्मियों ने समय रहते पहुंच कर आसपास के खेतों को आग की चपेट में आने से बचा लिया. रविवार दोपहर करीब 2 बजे के आसपास बिजली के तार से स्पार्किंग होने के कारण खेतों में आग लग गई, पहले तो लोगों ने खुद आग पर काबू पाने की कोशिश की लेकिन आग को बढ़ता देख लोगों ने दमकल विभाग बद्दी को इसकी सूचना दी.

फायर ऑफिसर देवेंद्र सिंह ने सूचना मिलते ही विभाग की एक टीम मौके पर भेजी. दमकल विभाग की टीम ने घटना स्थल पर पहुंच कर तुरंत मोर्चा संभाला और आसपास के खेतों को आग की चपेट में आने से बचा लिया. लेकिन तब तक करीबन 35 बीघा के करीब फसल जलकर राख हो चुकी थी. इस दौरान गुरनाम सिंह की 20 बीघा, हंसराज की पांच बीघा, छोटूराम की पांच बीघा, श्यामलाल की एक बीघा व गुरचरण सिंह की 2 बीघा भूमि पर लगी गेहूं की फसल पूरी तरह से नष्ट हो गई.

फायर ऑफिसर देवेंद्र सिंह ने बताया कि उन्होंने सूचना मिलते ही फौरन विभाग की एक टीम मौके पर भेज दी थी. उन्होंने कहा कि फायर कर्मियों ने कडी मशक्कत से लगभग आधे घंटे में आग पर काबू पाया. उन्होंने कहा कि इस हादसे में 50 हजार के करीब का नुकसान हुआ है, जबकि दमकल विभाग ने करीबन 10 लाख की संपत्ति जलने से बचा ली है.

गांव के लोगों का आरोप है कि बिजली विभाग को पहले भी कई बार इस बारे सूचित किया गया था कि जो बिजली की तारें हैं वह खेतों से कम ऊंचाई पर है, जिसके कारण पहले भी कई बार खेतों में आग लग चुकी है. बावजूद इसके बिजली विभाग की ओर से इन तारों की ऊंचाई बढानें की कोई जहमत नहीं उठाई गई.

कॉमेंट करें

अपनी टिप्पणी यहाँ लिखें
अपना नाम यहाँ लिखें