कल से ग्राम स्वराज अभियान की शुरुआत

ग्राम स्वराज अभियान-कल से ग्राम स्वराज अभियान की शुरुआत

नई दिल्ली. 14 अप्रैल से 5 मई तक “ ग्राम स्वराज अभियान- सबका साथ, सबका गांव, सबका विकास कार्यक्रम ”आयोजित किया जाएगा. इस कार्यक्रम का उद्देश्य सामाजिक सौहार्द को बढ़ावा देना, गरीब परिवारों तक पहुंच कायम करना और केंद्र सरकार की विभिन्न जन-कल्याणकारी योजनाओं तथा कार्यक्रमों से वंचित रह गए सभी लोगों को इनके दायरे में लाकर लाभान्वित करना है. यह जानकारी केन्द्रीय ग्रामीण विकास और पंचायती राज मंत्री नरेन्द्र सिंह तोमर ने एक प्रेस कांफ्रेंस में दी.

उन्होंने बताया कि ग्राम स्वराज अभियान के दौरान 21058 गांवों के लिए विशेष पहल शुरू की जा रही है. इसमें चुनावी राज्य कर्नाटक और पश्चिम बंगाल के गांव शामिल नहीं हैं. इस अभियान के अंतर्गत गरीब समर्थक पहलों में उज्ज्वला योजना, मिशन इन्द्रधनुष, प्रधानमंत्री सौभाग्य योजना, उजाला, प्रधानमंत्री जन-धन योजना, प्रधानमंत्री जीवन ज्योति बीमा योजना और प्रधानमंत्री सुरक्षा बीमा योजना का शत प्रतिशत आच्छादन किया जाएगा.

केन्द्रीय मंत्री ने बताया कि 14 अप्रैल, 2018 को अंबेडकर जयंती, ग्राम स्वराज अभियान के अंतर्गत मनाई जाएगी. इस अवसर पर प्रधानमंत्री बीजापुर से शुभारम्भ करेंगे. इस दिन डॉ. अंबेडकर के विचारों और आदर्शों को आगे बढ़ाने के लिए कार्यक्रम आयोजित किए जाएंगे.जाति, आय प्रमाण-पत्र और छात्रवृत्ति के लिए पंजीकरण किए जाएंगे और बैंक खातों को आधार से जोड़ा जाएगा. यह कार्यक्रम सभी स्थानों पर संपन्न होगा और प्रधानमंत्री के भाषण का सीधा प्रसारण किया जाएगा.

नरेन्द्र सिंह तोमर ने कहा कि 18 अप्रैल, 2018 को स्वच्छ भारत पर्व के तहत ग्राम स्वच्छता अभियान कार्यक्रम आयोजित किए जाएंगे. इस दिन प्रत्येक गांव में सफाई अभियानों का आयोजन होगा. ठोस एवं तरल अपशिष्ट प्रबंधन गतिविधियों के बारे में जागरूकता का प्रसार किया जाएगा और इससे संबंधित गतिविधियां की जाएंगी.
उन्होंने बताया कि 20 अप्रैल, 2018, उज्ज्वला पंचायत के रूप में मनाया जाएगा. इस दिन 15000 स्थनो पर एलपीजी कनेक्शन बांटे जाएंगे. इसके अलावा, सुरक्षा उपायों की जानकारी दी जाएगी.

केन्द्रीय पंचायती राज मंत्री नरेन्द्र सिंह तोमर ने कहा कि पंचायती राज दिवस, 24 अप्रैल, 2018 को राष्ट्रीय एवं ग्राम सभा स्तर परके अवसर पर कार्यक्रम आयोजित किए जाएंगे.इस अवसर पर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी का मंडला मध्यप्रदेश से संबोधन होगा, जिसका सीधा प्रसारण ग्राम सभाओं में किया जाएगा. इस दिन राष्ट्रीय ग्राम स्वराज अभियान का शुभारंभ किया जाएगा. इस दिन प्रत्येक गांव में “स्थानीय सरकार निर्देशिका’ (एलजीडी) का ई-लांच किया जाएगा. प्रत्येक ग्राम पंचायत में ग्राम सभा का आयोजन होगा और सार्वजनिक सूचना अभियान आयोजित किए जाएंगे.

उन्होंने बताया कि 28 अप्रैल, 2018 का दिन “ग्राम शक्ति अभियान’ के रूप में मनाया जाएगा. इस दिन जिला मुख्यालय स्तर पर ईईएसएल द्वारा एलईडी बल्बों की बिक्री की जाएगी और सौभाग्ययोजना पर कियोस्क, स्टॉल एवं काउंटर लगाए जाएंगे. इस बारे में अनुभव साझा किए जाएंगे और ब्लॉकों, ग्राम पंचायतों और कर्मचारियों को पुरस्कृत किया जाएगा.

30 अप्रैल, 2018 को “आयुष्मान’ भारत के अवसर पर ग्राम पंचायत स्तर पर लाभार्थियों की सूची का प्रमाणीकरण किया जाएगा. पात्र लाभार्थियों तक पहुंच बनाई जाएगी और प्रक्रिया के बारे में लोगों को शिक्षित किया जाएगा.

2 मई, 2018 “किसान कल्याण कार्यशाला’ के लिए निर्धारित किया गया है. इस दिन ब्लॉक स्तर पर किसानों की आय दुगुनी करने की कार्यशाला आयोजित की जाएगी.

5 मई, 2018 को आजीविका और कौशल विकास मेलों का 4000 ब्लाकों एवं राष्ट्रीय स्तर पर आयोजन किया जाएगा. इस दिन एक लाख महिलाएं एवं युवक सफलता की कहानियां-रोल मॉडल पर आधारित समारोह मनाएंगे.

कॉमेंट करें

अपनी टिप्पणी यहाँ लिखें
अपना नाम यहाँ लिखें