बिहार पंचायत चुनाव : भाजपा लगा सकती है राजद के वोटबैंक में सेंध, जानिए क्या है तैयारी

बिहार पंचायत चुनाव : भाजपा लगा सकती है राजद के वोटबैंक में सेंध, जानिए क्या है तैयारी
For representational purpose only Source :- Internet

पटना. विधानसभा चुनाव 2020 में शानदार प्रदर्शन के बाद सत्तारूढ़ पार्टी भाजपा की नजर आगामी पंचायत चुनाव पर है. राज्य में पार्टी संगठन को मजबूत करने के इरादे से भाजपा राजद के वोट बैंक में सेंधमारी की भी तैयारी कर रही है.

मकर संक्रांति के बाद रणनीति स्पष्ट

भाजपा बिहार में पंचायत स्तर पर पार्टी के विस्तार और कार्यकर्ताओं की सत्ता में एंट्री को लेकर तैयारियों में जुटी हुई है. इसके लिए भाजपा पार्टी विशेष रूप से राजद के वोट बैंक यानि MY ( मुस्लिम-यादव ) फैक्टर को अपने पक्ष में करने की कोशिश में लगी हुई है. जानकारी के अनुसार मकर संक्रांति के बाद भाजपा पंचायत चुनाव को लेकर अपनी रणनीति स्पष्ट करेगी.

भाजपा को है मुस्लिम उम्मीदवार की खोज

पार्टी पंचायत चुनाव के लिए मजबूत मुस्लिम उम्मीदवारों की खोज कर रही है, जिससे स्थानीय स्तर पर चुनाव लड़ा जा सके. भाजपा की कोशिश है कि राज्य में राजद के कोर वोटरों को अपने पाले में लाया जाए. और चुनाव में उन्हें लडाया जाए.

होली के बाद पंचायत चुनाव का ऐलान संभव

होली के बाद ऐलान संभव- बताया जा रहा है कि बिहार चुनाव का ऐलान होली 2021 के बाद संभव है. बिहार में अप्रैल और मई में पंचायत चुनाव की अवधि समाप्त हो जाएगी. बिहार में इस साल 300 पंचायतों में मुखिया और सरपंच नहीं चुने जाएंगे.