‘पच्छाद की जनता में विधानसभा-उपचुनाव को लेकर काफी उत्साह’

'पच्छाद की जनता में विधानसभा-उपचुनाव को लेकर काफी उत्साह है'-Panchayat Times
साभार : ऑफिसियल फेसबुक जय राम ठाकुर
पच्छाद . मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर ने भाजपा कार्यकर्ताओं से प्रदेश सरकार और केन्द्र सरकार की विभिन्न कल्याणकारी कार्यक्रमों और योजनाओं को जन-जन तक पहुंचाने का आग्रह किया है. वह सोमवार को जिला सिरमौर के राजगढ़ में रीना कश्यप के पच्छाद विधानसभा क्षेत्र से उप-चुनाव के लिए नामांकन पत्र भरने के पश्चात जनसभा को सम्बोधित कर रहे थे.
जय राम ठाकुर ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और पार्टी अध्यक्ष अमित शाह के कुशल नेतृत्व में भाजपा ने लोकसभा चुनाव में 303 और एनडीए सहयोगियों सहित 353 सीटें जीती हैं. इससे प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के कुशल नेतृत्व में गतिशील नए भारत का उदय हुआ है. उन्होंने कहा कि हिमाचल प्रदेश ने लोकसभा चुनाव में प्रदेश की 68 विधानसभा चुनाव क्षेत्रों में जीत हासिल कर एक नया रिकाॅर्ड स्थापित किया है. इस चुनाव में कांगड़ा की लोकसभा सीट पर जीत का अंतर 4.77 लाख वोट था जो देश में सबसे अधिक था.
जय राम ठाकुर ने कहा कि प्रदेश सरकार ने पिछले 20 महीनों के कार्यकाल में राज्य के सभी हिस्सों का एक समान विकास सुनिश्चित किया है. उन क्षेत्रों में विशेष ध्यान दिया गया है जो किन्हीं कारणों से विकास से वंचित रहे हैं. केन्द्र सरकार के कार्यकाल के प्रथम 100 दिनों की सबसे बड़ी उपलब्धि जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 को हटाना है, इससे देशभर में एक राष्ट्र-एक संविधान का रास्ता सुनिश्चित हुआ है.
सीएम ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की जनधन, आयुष्मान भारत, किसान सम्मान निधी योजना और उज्ज्वला योजना एक जीवंत भारत को बनाने में मील का पत्थर साबित हुई हैं. राज्य सरकार ने हिम केयर योजना को शुरू किया गया है जिसमें उन 22 लाख लोगों को लाया गया जो केन्द्र सरकार की आयुष्मान भारत योजना से वंचित रह गए थे। अब तक इस योजना सेे 37,000 लोगों को लाभ पहुंचाया जा चुका है.
इसी प्रकार राज्य सरकार ने गृहिणी सुविधा योजना को शुरू किया जिसमें उन सब परिवारों को लाभ पहुंचाया गया जो उज्ज्वला योजना से वंचित रह गए थे. उन्होंने कहा कि राज्य सरकार हिमाचल प्रदेश को देश का प्रदूषण मुक्त राज्य बनाने का प्रयास कर रही है. इसके साथ ही केन्द्र सरकार छोटे व्यापारियों के लिए पेंशन योजना की घोषणा करने के अतिरिक्त किसानों को 6,000 रुपये प्रति वर्ष प्रदान कर रही है.