झारखंड: सीएए के समर्थन में रैली के दौरान हुई हिंसा की न्यायिक जांच की मांग को लेकर सदन के बाहर भाजपा का प्रदर्शन

झारखंड: सीएए के समर्थन में रैली के दौरान हुई हिंसा की न्यायिक जांच की मांग को लेकर सदन के बाहर भाजपा का प्रदर्शन - Panchayat Times

रांची. झारखंड बजट सत्र की मंगलवार को कार्यवाही शुरू होने के पहले ही सदन के बाहर भाजपा विधायकों ने विरोध प्रदर्शन किया. भाजपा विधायकों ने लोहरदगा में सीएए के समर्थन में हुई रैली के दौरान हिंसा मामले की न्यायिक जांच की मांग कर रहे हैं.

भाजपा विधायकों का कहना है कि इस विषय पर कार्य स्थगन प्रस्ताव लाया जाएगा. उन्होंने इस मामले की जांच हाईकोर्ट के सीटिंग जज से कराने की मांग की. विधायकों ने दोषियों पर कार्रवाई और पीड़ितों को मुआवजा देने की मांग की. विधानसभा सत्र के दौरान प्रश्नकाल, अनुदान मांग पर सरकार का उत्तर व मतदान होना है.

जनसंख्या के अनुपात में राज्य के लोगों को मिलेगा आरक्षण का लाभ : मुख्यमंत्री

सोमवार को कार्यवाही के दौरान मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने साेमवार काे विधानसभा के बजट सत्र के दौरान सदन में कहा कि राज्य के लोगों को जनसंख्या के अनुपात में आरक्षण का लाभ मिलेगा. सरकार इसमें आने वाली वैधानिक अड़चनों को दूर करने का प्रयास कर रही है. इसी वजह से नियुक्ति की सारी प्रक्रियाओं को भी फिलहाल रोका गया है.

मुख्यमंत्री ने कहा था की ओबीसी हो या सरना सभी को आरक्षण देने का प्रयास होगा. ओबीसी सहित सभी वर्गों को उनका उचित हक दिया जाएगा. यह भी कहा कि सभी वर्गों का जाति आधारित जनगणना होना चाहिए क्योंकि इससे काफी लोग प्रभावित हाे रहे हैं. सरकार ने इसे संज्ञान में लिया है. सरना कोड नहीं होने के कारण वे भी छूट रहे हैं. सीएम हेमंत साेरेन सुदेश महतो द्वारा लाये गये ध्यानाकर्षण प्रस्ताव पर जवाब दे रहे थे.