हिमखंड में दबे एक और जवान का शव बरामद

हिमखंड में दबे एक और जवान का शव बरामद-Panchayat Times

किन्नौर. किन्नौर जिला के नमज्ञा गांव के डोगरी नाले के पास हिमखंड में दबे सेना के एक और जवान का पार्थिव शरीर शनिवार को बरामद हुआ. राहत और बचाव दल में लगे सेना, बीआरओ और आईटीबीपी के दल ने 17 दिन बाद शव को खोज निकाला है.

शहीद जवान नितिन राणा (24) हिमाचल प्रदेश के कांगड़ा जिला के जयसिंहपुर के निवासी थे. हिमाचल प्रदेश के ही सोलन जिले के नालागढ़ के राजेश ऋषि का पार्थिव शरीर बीते दो मार्च और पश्चिमी बंगाल के गोविंद छत्री का पार्थिव शरीर बीते चार मार्च को घटनास्थल से बरामद हुआ था. अभी भी सेना के दो जवान लापता हैं, जिनकी तलाश जारी है.

20 फरवरी को डोगरी नाले में अचानक हिमखंड गिरने से जैक राईफल के छह जवान लापता हो गए थे. सैन्यकर्मियों ने हिमस्खलन के फौरन बाद से खोजी कुत्तों व अत्याधुनिक सेंसरों की मदद से राहत अभियान शुरू किया था. किन्नौर के उपायुक्त गोपाल चन्द ने शनिवार को बताया कि जवान नितिन राणा (24) का पार्थिव शरीर आज बर्फ के नीचे से निकाला गया.

नितिन कांगड़ा जिला के रहने वाले थे. उनके पार्थिव शरीर को घटनास्थल से सेना के बेस कैम्प पूह लाया जा रहा है. इसके बाद शव को उसके पैतृक गांव ले जाया जाएगा. उन्होंने कहा कि लापता दो जवानों की खोज में सेना द्वारा युद्धस्तर पर अभियान चलाया जा रहा है.

हिमखंड में दबे एक जवान की मिली लाश, चार जवान अब भी लापता

गौरतलब है कि बीते 20 फरवरी को नमज्ञा डोगरी नाला में हिमखंड गिरने से भारतीय सेना के छह जवान इसकी चपेट में आ गए थे. ये सभी जवान जैक राईफल्स के हैं जो अपनी पोस्ट के नजदीक ही पैट्रोलिंग डयूटी पर थे. इनमें विदेश चंद, गोविंद बहादुर, राजेश ऋषि, अर्जुन कुमार और नितिन राणा शामिल हैं.

इनमें हिमाचल के कांगड़ा जिले के जयसिंहपुर का नितिन राणा, सोलन जिला के नालागढ़ के जोंघों जगतपुर का राजेश ऋषि और कुल्लू जिला के निरमंड खंड के विदेश चंद शामिल है, जबकि हिमाचल के ही बिलासपुर के जवान राकेश कुमार को हादसे वाले दिन ही निकाल लिया गया था, लेकिन अस्पताल ले जाते समय उनकी मृत्यु हो गई थी.