चंबा जिले की ककीरा पंचायत इतिहास रचने को तैयार

ककीरा पंचायत चंबा जिले की ककीरा पंचायत इतिहास रचने को तैयार

चंबा (चुवाड़ी). ई-गवर्नेंस में नेशनल अवार्ड जीतने वाली ककीरा पंचायत महिला सशक्तिकरण की दिशा में इतिहास रचने को तैयार है. हिमाचल की पहली सेनेटरी नैपकिन एंड वेंडिंग मशीन इसी पंचायत में लगेगी. महज पांच रुपए का सिक्का डालने पर यह मशीन ब्रांडेड सेनेटरी नैपकिन उगलेगी. इसमें एक-एक रुपए के पांच सिक्के डालने से भी काम हो जाएगा. दो का सिक्का अपने आप रिजेक्ट हो जाएगा और पांच रुपए का नोट इसमें नहीं चलेगा. 19 मई को इसका उद्घाटन विधायक विक्रम जरियाल एवं उनकी पत्नी करेंगे.

खास बात यह कि महिलाओं द्वारा इस्तेमाल सेनेटरी नैपकिन बेकार नहीं जाएगा. मशीन के साथ इंसीनेटर लगा होगा, जिसमें इस्तेमाल पैड को डाला जाएगा. बाद में उसका इस्तेमाल पंचायत में लगे मनी प्लांट में खाद के तौर पर किया जाएगा. यही नहीं, बिजली न होने पर मशीन के लिए बैकअप सेवा भी मिलेगी. एक समय में मशीन में 50 नैपकिन डालने की क्षमता होगी. बीडीओ भटियात अरविंद गुलेरिया ने बताया कि शीघ्र ही ककीरा में मशीन इंस्टाल कर दी जाएगी.

पंचायत प्रधान संतोष कुमारी ने इस पहल को ऐतिहासिक करार दिया है. बताते हैं कि कुछ ग्रामीणों ने इस मशीन को लुधियाना में देखा था. उन्होंने इस संदर्भ में अपनी पंचायत को अवगत करवाया. बाद में पता किया तो जानकारी मिली कि पंजाब के 50 स्कूलों में इस मशीन का इस्तेमाल हो रहा है। इस पर ग्रामीणों ने इसके लिए प्रयास शुरू किए.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी इस पंचायत की कर चुके हैं तारीफ

ककीरा कस्बा पंचायत क्षेत्र में सबसे हटकर कार्यों के लिए जानी जाती है. इससे पहले बीते 24 अप्रैल को ई-गवर्नेंस में इस पंचायत को मध्य प्रदेश में एक समारोह में नेशनल अवार्ड मिल चुका है. खुद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पंचायत के जज्बे की सराहना की है.