हरिपुर में सीआरपीएफ सेंटर बनने को लेकर तलाशी जा रही संभावनाएं

बनखंडी (कांगड़ा). केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ) का हरिपुर में सेंटर बन सकता है. इसके लिए सीआरपीएफ के अधिकारियों सहित स्थानीय प्रशासनिक अधिकारियों और संबंधित विभागों के अधिकारियों के साथ इस पर बैठक के दौरान कुछ संभावनाएं तलाशी गई.

गुर्जर समुदाय ने वन विभाग की महिला अधिकारियों पर किया हमला

बताया जा रहा है कि सीआरपीएफ के अधिकारी पिछले काफी समय से देहरा उपमंडल के तहत हरिपुर के साथ लगते क्षेत्र में अपने सैंटर के लिए भूमि की तलाश में जुटे हैं. इसके लिए कई बार इनके कई वरिष्ठ अधिकारी भी इस क्षेत्र का दौरा कर चुके हैं. सूत्रों के मुताबिक सीआरपीएफ यहां पर मौजूद भूमि पर अपना सेंटर बनाए जाने के लिए प्रयासरत है. इसके लिए इनका यहां पर मौजूद भूमि के लिए चयन और भूमि से जुड़ी सम्भावनाएं देखी जा रही है कि क्या यह स्थान सेंटर के लिए उपयुक्त साबित हो सकता है या नही.

हर किसी प्रमुख पहलु से जोड़कर इस स्थान पर सैंटर के निर्माण के लिए आज भी सीआरपीएफ के अधिकारी भूमि देखने के लिए उक्त स्थान पर गए और इसका मुआयना किया. इससे पूर्व हरिपुर के लोक निर्माण विभाग के विश्राम गृह में स्थानीय पंचायत और बुद्धिजीवी वर्ग के साथ इस मामले पर अधिकारियों ने बैठक कर बातचीत की और लोगों से राय जानी.

हालांकि इस मौके पर सीआरपीएफ के अधिकारियों से इस बारे में पूछा गया तो उन्होंने बताया कि फिलहाल हरिपुर के साथ लगते क्षेत्र का दौरा करके इस के बारे में सम्भावनाएं देखी जा रही हैं. इस मौके पर सीआरपीएफ के नॉर्थ-वेस्ट सेक्टर चंडीगढ़ के आईजी सतपाल कुमार, डीआईजी रेंज सीआरपीएफ चंडीगढ़ वीके कौंडल और डीआईजी नॉर्थ-वेस्ट सैक्टर चंडीगढ़ प्रवीण कुमार आदि सहित देहरा के एसडीएम धनवीर सिंह ठाकुर, डीएसपी देहरा एलएम शर्मा, नायब तहसीलदार हरिपुर विजय कुमार, पंचायत प्रधान हरिपुर रेखा चौधरी, विजयेन्द्र सिंह गुलेरिया, देसराज चनौरिया, डा योगेश रैणा, गिरधर वशिष्ठ, संदीप शर्मा और अन्य लोग मौजूद रहे.