छत्तीसगढ़ विधानसभा चुनाव: प्रथम चरण की 18 सीटों पर 56.58 प्रतिशत मतदान

पहले चरण की 10 विधानसभा सीटों पर मतदान खत्म, 8 सीटों पर 5 बजे तक होगी वोटिंग

रायपुर. छत्तीसगढ़ में भारी सुरक्षा व्यवस्था के बीच पहले चरण का मतदान सोमवार को शाम पांच बजे संपन्न हुआ. इस चरण में विधानसभा की 18 सीटों पर शाम 4.30 बजे तक 56.58 प्रतिशत मतदान दर्ज किया गया. पहले चरण की वोटिंग के लिए सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए गए थे. इस चरण में मतदाताओं ने मुख्यमंत्री रमन सिंह समेत 190 उम्मीदवारों के भाग्य का फैसला ईवीएम में बंद कर दिया है. पहले चरण में 10 विधानसभा क्षेत्रों में सुबह सात बजे से दोपहर तीन बजे तक वोट डाले गए. वहीं, शेष आठ विधानसभा क्षेत्र जिसमें से राजनांदगांव जिले के पांच और बस्तर जिले के तीन विधानसभा क्षेत्र शामिल हैं, में सुबह आठ बजे से शाम पांच बजे तक वोटिंग हुई.

मतदान समाप्ति के बाद मतदान दल लौटे हवाई रास्ते के जरिये मुख्यालय

नक्सलियों को मुंह तोड़ जवाब देते हुए मतदाताओं ने लोकतंत्र में दिखाया विश्वास

छत्तीसगढ़ की 18 विधानसभा सीटों पर मतदान हुआ. इनमें से 12 सीटें नक्सल प्रभावित थी. हर विधानसभा चुनावों में नक्सली बहिष्कार की धमकी देते हैं, लेकिन हर बार मतदान का प्रतिशत बढ़ जाता है. इस बार भी 2018 के विधानसभा चुनाव में स्थानीय ग्रामीण नक्सलियों की धमकियों को दरकिनार कर अपने मताधिकार का बखूबी प्रयोग किया.

खासकर उन गांवों में जो नक्सलियों के गढ़ माने जाते रहे हैं. हर विधानसभा चुनावों में नक्सली बहिष्कार की धमकी देते हैं, लेकिन हर बार मतदान का प्रतिशत बढ़ जाता है. इस बार भी 2018 के विधानसभा चुनाव में स्थानीय ग्रामीण नक्सलियों की धमकियों को दरकिनार कर अपने मताधिकार का बखूबी प्रयोग किए हैं.

नक्सलियों का गढ़ दंतेवाड़ा जिला, जिसके गांव गोलियों और धमाकों से गूंजते रहते हैं, वहां मतदान कराना सुरक्षा के लिहाज से बड़ी चुनौती है. बावजूद इसके यहां के लोग मतदान को लेकर खासा उत्साहित नजर आए.