मुख्यमंत्री ने यातायात की शीघ्र बहाली के दिए निर्देश

पूर्व सरकार ने युवाओं के साथ बेरोजगारी भत्ते के नाम पर किया धोखा : जय राम ठाकुर -Panchayat Times
फाइल फोटो :जय राम ठाकुर

शिमला. हिमाचल प्रदेश में पिछले 48 घंटों से लगातार बर्फबारी से हुए नुकसान के दृष्टिगत राज्य सरकार कि ओर से चलाए जा रहे राहत एवं बचाव कार्यों की मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर ने बुधवार को समीक्षा की. मुख्यमंत्री ने संबधित अधिकारियों को बिजली, जलापूर्ति और सड़कों पर यातायात की शीघ्र बहाली के निर्देश दिए हैं.

अतिरिक्त मुख्य सचिव, मुख्यमंत्री के प्रधान सचिव और राज्य विद्युत बोर्ड के अध्यक्ष डॉ. श्रीकांत बाल्दी भी बैठक में उपस्थित थे. उन्होंने मुख्यमंत्री को विभिन्न क्षेत्रों में बिजली आपूर्ति में आई बाधा और इसकी जल्द बहाली के लिए उठाए जा रहे कदमों के बारे में जानकारी दी.

मुख्यमंत्री ने भारी बर्फबारी से पैदा हुई स्थिति का लिया जायजा

एक सरकारी प्रवक्ता ने बताया कि राज्य में बंद हुई कुल 690 सड़कों को बहाल करने के लिए युद्धस्तर पर प्रयास किए जा रहे हैं. लोक निर्माण विभाग को हुए नुकसान का आकलन 51.92 करोड़ रुपए किया गया है, जो सड़कों के नुकसान और क्षति के अंतिम आकलन के बाद बढ़ सकता है. सड़कों पर यातायात की बहाली के लिए कुल 350 मशीनरी तैनात की गई हैं.

उन्होंने बताया कि बर्फबारी के कारण कुल 5058 प्रभावित डिस्ट्रब्यूसन ट्रांसफार्मर (डीटीआर) में से 2625 को बहाल कर दिया गया है और शेष 2483 डीटीआर को जल्द ही बहाल किया जाएगा. प्रवक्ता ने बताया कि कुल्लू खंड की लग घाटी के खलारानाला में बुधवार को एक बड़ा भूस्खलन हुआ है. इसमें दो वाहन दब गए और बचाव दलों ने घटनास्थल पर पहुंच कर इसे साफ कर दिया गया है. उपायुक्त कुल्लू यूनुस ने खुद मौके का दौरा किया. कुल 6 लोगों को बचा लिया गया, जबकि 2 लोगों को मामूली चोटें आईं जिनका क्षेत्रीय अस्पताल कुल्लू में इलाज चल रहा है.