चुकरू, पलामू जिले का एक गांव जहां पानी बन रहा है मौत का कारण

पलामू जिले का एक गांव जहां पानी बन रहा है मौत का कारण - Panchayat Times

पलामू. जिले से महज 5 किलोमीटर दूर एक गांव है चुकरू जहां मौत का सिलसिला लगातार जारी है. जो थमने का नाम नहीं ले रहा एक-एक कर लोग मौत के मुँह में समाते जा रहे हैं, 30 साल 50 मौत यही कहानी है चुकरू गांव की.

पलामू जिले का एक गांव जहां पानी बन रहा है मौत का कारण - Panchayat Times

इतने मौत से ही अब बस नहीं हुआ है अनवरत मौत होकर कहानी में नया अध्याय जुड़ता जा रहा है, कोई चलने में लाचार है तो कोई बैठ जाए तो बिना किसी सहारे का खड़ा नही हो पाता है तो वहीं कोई चारपाई पर बैठकर ही अपने जीवन की शेष अवधि को गुजार रहा है, आज विगत 25 वर्षों से फ्लोराइड युक्त पानी कहर बरपा रहा है.

पलामू जिले का एक गांव जहां पानी बन रहा है मौत का कारण - Panchayat Times

जिला मुख्यालय से महज कुछ ही दूरी पर अवस्थित

विडंबना इस बात का है कि यह परिस्थिति तब है, जब गांव जिला मुख्यालय से महज कुछ ही दूरी पर अवस्थित है. लोगों को स्वच्छ जल मुहैया कराने के लिए वर्षों पहले चांपा नल में पानी फिल्टर कराने हेतु मशीन लगाया गया था, पर आज हस्र ये है कि वह चांपा नल से दूर पड़ा हुआ है बेकार है साथ ही गांव में ग्रामीण जलापूर्ति योजना की शुरुआत की गई थी. मगर वह बेकार साबित हुआ. गांव में रहने वाले आदिवासियों ने बताया कि हमको सबने धोखा दिया है.

पहले दातों पर पड़ता है असर, फिर शरीर में जकड़न

फ्लोराइड युक्त पानी का असर सबसे पहले पीने वाले की दातों पर पड़ता है, फिर धीरे-धीरे शरीर को जकड़ना शुरू कर देता है. यह पूरे शरीर को विकलांग बना देता है, इसी का उदाहरण एक ग्रामीण सुदामा पाल भी थे. इनके जैसे चुकरूं गांव में अनगिनत लोग हैं जिनकी हालात बद से बदतर है, तथाकथित जीवन ज्योत टीम सुदामा पाल जी को जब आर्थिक मदद प्रदान करने गई थी तो गांव की हालात देख वहां की स्थिति से रूबरू हुए.

पलामू जिले का एक गांव जहां पानी बन रहा है मौत का कारण - Panchayat Times

पानी परिस्थितियों की सबसे बड़ी जड़

इन सभी परिस्थितियों का जड़ सिर्फ पानी दिखा, जलापूर्ति योजना की शुरुआत गांव में किया तो गया था. मगर जिस नदी से गांव वालों को पानी मुहैया कराया जाता था वह अभी ठप पड़ा हुआ है, क्योंकि नदी में बना कुआं बालू से भरा पड़ा हुआ है, उसकी सफाई और पाइप लाइन की सफाई अति आवश्यक है, गांव की टंकी खराब पड़ी है.

पलामू जिले का एक गांव जहां पानी बन रहा है मौत का कारण - Panchayat Times

जलापूर्ति योजना से मिलने वाला पानी था बेहतर

गांव वालों ने बताया कि अगर पानी जलापूर्ति योजना के तहत फिर से हम सभी को मिलना चालू हो जाता है तो वह गांव से बेहतर पानी है उससे स्वास्थ्य ठीक रहता है, मगर क्या करें कोई जनप्रतिनिधि या आला अधिकारी हमारी शिकायत सुनता ही नहीं है.