सीएम ने किया जल-जीवन मिशन का शुभारम्भ

सीएम ने किया जल-जीवन मिशन का शुभारम्भ-Panchayat Times
साभार फेसबुक

शिमला. मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर ने शुक्रवार को मण्डी जिले के धर्मपुर क्षेत्र के अंतर्गत राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला टीहरा में शिक्षा संवाद और एनएसएस शिविर को संबोधित करते हुए कहा कि नागरिकता संशोधन अधिनियम (सीएए) केन्द्र सरकार का एक ऐतिहासिक कदम है. प्रदेश के लोग इस निर्णय के साथ हैं, जो पाकिस्तान, बांग्लादेश और अफगानिस्तान से आने वाले अल्पसंख्यकों को नागरिकता प्रदान करेगा. मुख्यमंत्री ने इस अवसर पर टीहरा से राज्य के लिए जल-जीवन मिशन का शुभारम्भ किया.

मुख्यमंत्री ने मण्डी जिला के थुनाग, शिमला जिला के कोटी, चम्बा जिला के तीसा और बिलासपुर जिला के झण्डुता के लिए निर्बाध पेयजल आपूर्ति के लिए मिशन का ऑनलाइन शुभारम्भ किया. उन्होंने विडियो काॅन्फ्रेंस के माध्यम से लाभार्थियों से बातचीत भी की. उन्होंने कहा कि जल-जीवन मिशन प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी का एक महत्वकांक्षी कार्यक्रम है.

जयराम ठाकुर ने कहा कि जल जीवन मिशन से राज्य में पानी की समस्या के समाधान में सहायता मिलेगी और इस कार्य पर 3200 करोड़ रुपये खर्च किए जाएंगे.
मुख्यमंत्री ने कहा कि केन्द्र सरकार की उज्ज्वला योजना से प्रदेश के एक लाख 36 हजार परिवार लाभान्वित हुए हैं. इसी प्रकार हिमाचल गृहिणी सुविधा योजना से 2.65 लाख से अधिक परिवारों को लाभ मिला है. हिमाचल प्रदेश देश का पहला राज्य बन गया है, जहां प्रत्येक घर में एलपीजी कनेक्शन है.