झण्डूता में खुलेगा मिनी सचिवालय, सीएम ने किया ऐलान

झण्डूता में मिनी सचिवालय के निर्माण के अलावा लोक निर्माण विभाग का उपमण्डल

बिलासपुर. बिलासपुर जिला के झण्डूता में एक जन जागरूकता समारोह को सम्बोधित करते हुए मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर ने झण्डूता में मिनी सचिवालय के निर्माण के अलावा लोक निर्माण विभाग का उपमण्डल खोलने की घोषणा की.
मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य सरकार ने बरठीं से राज्य के मेधावी विद्यार्थियों के लिए एक नई तथा महत्वाकांक्षी योजना अटल आदर्श आवासीय शिक्षा योजना की घोषणा की ताकि वे कान्वेंट स्कूलों में पढ़ रहे विद्यार्थियों से प्रतिस्पर्धा कर सकें. इस योजना के लिए 25 करोड़ रुपये का प्रावधान किया गया है.

उन्होंने कहा कि इस योजना के तहत राज्य में 10 आदर्श विद्यालय खोले जाएंगे जो आवासीय विद्यालय होंगे तथा इनमें अध्ययनरत विद्यार्थियों के लिए विशेष सुविधाएं प्रदान की जाएंगी. मुख्यमंत्री ने कहा कि वर्तमान राज्य सरकार ने 11 माह का कार्यकाल पूरा कर लिया है और इस अवधि के दौरान समाज के प्रत्येक वर्ग के कल्याण तथा विकास के लिए अनेक कल्याणकारी योजनाएं आरम्भ की गई हैं. विकास की गति को सुनिश्चित बनाने के लिए उन्होंने राज्य के 58 विधानसभा क्षेत्रों का दौरा कर लिया है. सरकार उन क्षेत्रों के विकास को तरजीह प्रदान कर रही है जो किन्हीं कारणों से विकास के मामले में उपेक्षित रह गए हैं. उन्होंने कहा कि वह स्वयं एक साधारण परिवार से संबंध रखते हैं और राज्य के लोगों की विकास की आवश्यकताओं और आकांक्षाओं को भली-भांति परिचित हैं.

उन्होंने कहा कि जब वर्तमान सरकार ने राज्य की बागडोर संभाली, राज्य पिछली सरकार के कुप्रबन्धन के कारण 46,500 करोड़ रुपये के कर्ज के बोझ में था. उन्होंने कहा कि इस अवधि के दौरान राज्य सरकार केन्द्र सरकार से 6300 करोड़ रुपये की विकासात्मक परियाजनाओं को स्वीकृत करवाने में सफल रही है, जबकि करोड़ों रुपये की केन्द्रीय परियोजनाएं प्रक्रियाधीन हैं.

ये भी पढ़ें- सऊदी अरब में फंसे युवकों ने वीडियो भेजकर भारत सरकार से लगाई गुहार

मुख्यमंत्री ने बरठीं में 3.49 करोड़ रुपये की लागत से निर्मित होने वाली सरगल-कोटला-बरठीं जलापूर्ति योजना के संवर्द्धन की आधारशिला रखी. यह योजना क्षेत्र की 24 बस्तियों की 8000 से अधिक की आबादी को लाभान्वित करेगी.

उन्होंने कजैल में 1.90 करोड़ रुपये की लागत से बनने वाली टूंगरी-कजैली-समोह-विजय जलापूर्ति योजना की आधारशिला रखी. इसके अलावा झण्डूता में 1.96 करोड़ रुपये की लागत से निर्मित होने वाले सर्कुलर मार्ग, एक करोड़ रुपये की लागत से निर्मित होने वाले मुख्यमंत्री लोक सदन तथा बेहरां में 92 लाख रुपये की लागत से निर्मित होने वाले कौशल विकास खेल प्रशिक्षण केन्द्र झण्डूता की भी आधारशिलाएं रखीं. इस अवसर मुख्यमंत्री को विभिन्न सामाजिक, सांस्कृतिक, राजनीतिक संगठनों तथा एसोसिएशनों ने सम्मानित किया.

भाजपा मण्डल तथा पंचायत चौकीदार संघ ने मुख्यमंत्री को सिक्कों के साथ तोला. एकत्रित राशि को मुख्यमंत्री राहतकोष के लिए भेंट किया गया. इस अवसर पर बोलते हुए शिक्षा मंत्री सुरेश भारद्वाज ने कहा कि अटल आदर्श आवासीय योजना का उद्देश्य राज्य के ग्रामीण क्षेत्रों में सर्वश्रेष्ठ आवासीय पाठशालाएं प्रदान करना है. उन्होंने कहा कि राज्य सरकार का सबसे पहला निर्णय समाज के कमजोर वर्गों के कल्याण पर आधारित था. राज्य के लोगों को बिना किसी आय सीमा के वृद्धावस्था पैंशन की आयु सीमा को 80 वर्ष से घटाकर 70 वर्ष किया गया और इस निर्णय से प्रदेश के 1.30 लाख वृद्धजन लाभान्वित हुए हैं.

सांसद अनुराग ठाकुर ने झण्डूता क्षेत्र के लिए करोड़ों रुपये की विकासात्मक परियोजनाओं की आधारशिलाएं रखने के लिए मुख्यमंत्री का धन्यवाद किया. उन्होंने कहा कि अटल आदर्श स्कूल क्षेत्र के मेधावी विद्यार्थियों के लिए वरदान सिद्ध होंगे क्योंकि उन्हें अपने घरों के समीप गुणात्मक शिक्षा प्रदान करने का अवसर प्राप्त होगा.