कोयला कर्मियो ने मांग 80 हज़ार का बोनस

कोयला कर्मियो ने मांग 80 हज़ार का बोनस-Panchayat Times
साभार इंटरनेट

धनबाद. कोयला मजदूरों के चार ट्रेड यूनियनो ने दुर्गापूजा के अवसर पर कोयला मजदूरों के लिए 80 हजार रुपया बोनस की मांग की है. ट्रेड यूनियनो की संयुक्त मोर्चा ने बोनस भुगतान की मांग की शुरुआत कोल इंडिया की अनुषंगी ईकाइ एसईसीएल से की है. मोर्चा ने कंपनी के सीएमडी को 24 सितंबर की हड़ताल को लेकर सोंपे गए मांग पत्र में बोनस भुगतान का भी मुद्दा जोड़ा है.

मोर्चा में शामिल एचएमएस, एटक, इंटक और सीटू ने बुधवार को सीएमडी को सौंपे मांग पत्र में कोल इंडिया में 100 प्रतिशत एफडीआई का निर्णय वापस लेने, कोल इंडिया को एक कंपनी बनाने, ठेका प्रथा समाप्त करने, सभी तरह के नियोजन को पूर्व की भांति जारी रखने और कोल कर्मियों को कम से कम 80 हजार रुपया बोनस देना की मांग रखी है.

मांग पत्र सौपने में एचएमएस के नाथूलाल पांडेय, एटक के हरिद्वार सिंह, इंटक के पीके राय और सीटू के जेएस सोढ़ी शामिल हैं. गत वर्ष 60,500 रुपए बोनस के रूप में मिला था. हालांकि अब तक बोनस को लेकर कोल इंडिया ने बैठक करने की कोई तिथि निर्धारित नहीं की है. इधर, बीएमएस की औरसे 23 से 27 सितंबर और संयुक्त मोर्चा ने 24 सितंबर को एक दिन की हड़ताल घोषित की है. हड़ताल होने की स्थिति में बोनस के मामले पर संशय बना हुआ है.