राजस्थान विधानसभा चुनाव में कांग्रेसियों में टिकट को लेकर बेचैनी

जयपुर. प्रदेश में विधानसभा चुनाव में दावेदारों की सूची तय करने में कांग्रेस
प्रतीक चित्र

जयपुर. प्रदेश में विधानसभा चुनाव में दावेदारों की सूची तय करने में कांग्रेस में घमासान दिख रहा है. दिल्ली में 15 जीआरजी पर शुक्रवार को भी बैठकों का दौर जारी रहा जो शनिवार को भी चलेगा. करीब 80 सीटों पर नाम बदलने की चर्चा है इसमें अधिक सीट महिलाओं,युवाओ और जातिगत फैक्टर को ध्यान में रख दी गई है.

इसमें सबसे खास बात यह भी है कि कांग्रेस सांगानेर से किसी सिंधी चेहरे को अपना प्रत्याशी बना सकती है. सांगानेर में एक दर्जन से ज्यादा ब्राह्मण प्रत्याशियों को देखते हुए पार्टी ने यह मानस बनाया है. इसमें सुनील पारवानी, सुरज खत्री के नाम की चर्चा है. वहीं जयपुर से दो महिला उम्मीदवारों को टिकट मिलने की चर्चा है इसमें ज्योति खण्डेलवाल का किश्नपोल, आमेर से गंगादेवी का नाम चर्चा में है तो सिविल लाईंस पर ब्राह्मण के विरोध के बाद सीट बदले जाने की चर्चा पीसीसी में गर्माई रही यहां से विजय शंकर तिवाड़ी के नाम की चर्चा है.

विद्याधर नगर से देवन्द्र बुटाटी और प्रतापसिंह खाचारियवास का नाम चर्चा में है तो हवामहल से महेश जोशी कांग्रेस का चेहरा हो सकते है. जयपुर में करीब पांच सीटों पर पूर्व तय नाम बदले गए है जिनके बाद जातिगत फैक्टर को ध्यान में रखकर टिकट दिया गया है ताकि कांग्रेस भाजपा को उसके गढ़ में जोरदार टक्कर दे सके.

ये भी पढ़ें- टिकट न मिलने पर करें पार्टी के लिए काम: गहलोत

जयपुर की सीटों पर पांच घंटे मंथन

दिल्ली में शुक्रवार को जयपुर की सीटों करीब पांच घंटे तक मंथन चला है. इसमें जयपुर में जिन सीटों पर कांग्रेस हार रही है उन सीटों पर भाजपा के दिग्गज चेहरों को टक्कर देने के लिए किसी युवा या महिला या नया चहेरा को आगे करने की रणनीति बनी है. इसमें सांगानेर, सिविल लाईंस, विद्याधर नगर, मालवीय नगर, किश्नपोल, हवामहल, की सीट शामिल है जहां कांग्रेस हर हाल में जीत दर्ज कराना चाहती है.

कांग्रेस ने इसमें जातिगत फै क्टर को भी ध्यान में रखा है. इसमें एक सीट सिंधी समाज, एक जैन, एक वैश्य वर्ग, दो ब्राह्मण, एक जाट, एक यादव, एक मुस्लिम, एक एसटी कोटे को जाना तय माना जा रहा है. इसमें एक युवा चहेरा, दो नए चहेरे और दो महिला प्रत्याशियों को मौका मिलेगा. सहप्रभारी विवेक बंसल के करीब इन सीटों पर लगातार मंथन चला है. दिल्ली में अशोक गहलोत, अविनाश पांडे सहित बाकी वरिष्ठ नेता मौजूद रहें.

शेखावटी, झालवाड़ा, अजमेर पर विशेष फोकस

कांग्रेस का विशेष फोकस शेखावटी, झालावाड़, जोधपुर अजमेर, जयपुर, कोटा और बीकानेर पर है. इन जगहों पर कांग्रेस शानदार परफोरमेंस करना चाहती है. यहां पर कई नए चेहरे देखने को मिल सकते है.