बीजेपी की चिंता छोड़ कांग्रेस पहले अपने बिखरे कुनबे को संभाले : सुरेश कश्यप

बीजेपी की चिंता छोड़ कांग्रेस पहले अपने बिखरे कुनबे को संभाले : सुरेश कश्यप -Panchayat Times
साभर इंटरनेट

शिमला. प्रदेश भाजपा के अध्यक्ष एवं शिमला संसदीय क्षेत्र के सांसद सुरेश कश्यप ने कांग्रेस पर बड़ा हमला बोला है. आए दिन कांग्रेसी नेताओं के आ रहे बयानों का सुरेश कश्यप ने करारा जवाब दिया है.

नाहन में पत्रकारवार्ता को संबोधित करते हुए बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष सुरेश कश्यप ने कहा कि जहां विपक्ष में हर नेता मुख्यमंत्री बनने की चाहत रखता है, वहीं आज हालात यह है कि कांग्रेस पार्टी खुद ताश के पत्तों की तरह बिखरी हुई है.

बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष सुरेश कश्यप ने विपक्ष पर जुबानी हमला बोलते हुए कहा कि कांग्रेस पार्टी में हर नेता मुख्यमंत्री बनने की चाहत रखता है. कभी कांगड़ा से बाली बोलते हैं, तो कभी मुकेश अग्निहोत्री, कभी कुलदीप राठौर, तो कभी कौल सिंह. कई प्रकार की डिप्लोमेसी होती है. कभी लंच तो कभी डिनर डिप्लोमेसी.

कश्यप ने कहा कि आज कांग्रेस पार्टी पूरी तरह से बिखरी हुई है. मंत्री मंडल के विस्तर पर नेता प्रतिपक्ष मुकेश अग्निहोत्री द्वारा दिए गए बयान पर सुरेश कश्यप ने पलटवार करते हुए कहा कि मंत्रिमंडल को लेकर अग्निहोत्री बड़ी-बड़ी बातें कर रहें, लेकिन सच्चाई यह है कि आज कांग्रेस पार्टी ही ताश के पत्तों की तरह बिखरी हुई है. कई धड़ों में बंटी हुई है.

बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष सुरेश कश्यप ने यह भी कहा कि कोरोना काल में जिस तरह से भारतीय जनता पार्टी ने आम व्यक्ति तक पहुंचने का प्रयास किया, कांग्रेस पार्टी इसी हताश को देख बयानबाजी कर रही है. कांग्रेस कभी कोरोना को लेकर बयानबाजी करती है, तो अब प्रदेश में मंत्रिमंडल को लेकर बात कर रही है.

उन्होंने विपक्ष को सलाह देते हुए कहा कि कांग्रेस पार्टी को पहले अपना कुनबा संभालना चाहिए. विपक्ष को अपने बारे में चिंता करनी चाहिए. यही नहीं अपने नेताओं को भी संभालकर रखना चाहिए.

कश्यप ने कहा कि कांग्रेस के हालात ऐसे हो गए हैं कि आज उनके नेता अलग-अलग दिशाओं में अलग-अलग सुर में बात कर रहे हैं. इसलिए कांग्रेस को भारतीय जनता पार्टी की चिंता को छोड़ अपने कुनबे को संभालना चाहिए.

सुरेश कश्यप ने कहा कि भाजपा का नेतृत्व सहित सरकार सशक्त है और प्रदेश सरकार हिमाचल के विकास के लिए कृतसंकल्प है. सभी मंत्री विकास की दृष्टि से प्रदेश आगे बढ़े, उसके लिए काम कर रहे हैं और पार्टी भी एकजुटता के साथ 2022 के मिशन रिपीट के लक्ष्य को लेकर काम कर रही है.