कोरोना वायरस को विश्व स्वास्थ्य संगठन ने घोषित किया अंतरराष्ट्रीय स्वास्थ्य आपातकाल

कोरोना वायरस को विश्व स्वास्थ्य संगठन ने घोषित किया अंतरराष्ट्रीय स्वास्थ्य आपातकाल - Panchayat Times

नई दिल्ली. विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) ने चीन के कोरोना वायरस को अंतरराष्ट्रीय स्वास्थ्य आपातकाल घोषित कर दिया है. विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) की अंतरराष्ट्रीय स्वास्थ्य नियमन आपात समिति की बैठक में यह निर्णय लिया गया. कोराना वायरस चीन के अलावा 21 देशों में पहुंच चुका है. चीन में इससे 212 लोगों की जान जा चुकी है.

अंतरराष्ट्रीय चिंता को मानते हुए सार्वजनिक स्वास्थ्य आपातकाल घोषित

संयुक्त राष्ट्र महानिदेशक (स्वास्थ्य) ने कहा कि कोरोना वायरस का संक्रमण लगातार बढ़ता जा रहा है जिसके बाद विश्व स्वास्थ्य संगठन की तरफ से यह घोषणा की गई है. विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) के प्रमुख टेड्रोस ऐडहेनॉम गेब्रीयेसोस ने कहा कि अंतरराष्ट्रीय चिंता को मानते हुए हम इसे सार्वजनिक स्वास्थ्य आपातकाल घोषित करता हूं. ” इस घोषणा के पीछे प्रमुख कारण चीन की मौजूदा स्थिति नहीं है बल्कि जिस तरह यह दूसरे देशों में फैल रहा है, वो है.”

ज्ञात हो कि चीन समेत विश्व में कोरोना वायरस का प्रकोप बढ़ता जा रहा है और अब तक इसके लगभग 8,000 मामलों की पुष्टि हुई है. इनमें से लगभग 7,800 से ज्यादा मामले अकेले चीन के हैं, जहां से इस वायरस का प्रसार हुआ है.

212 लोगों की मौत

डब्ल्यूएचओ की बिते गुरुवार की रपट के अनुसार चीन में इस वायरस से 7,736 लोगों के संक्रमित होने की पुष्टि हो गई है. इसके अलावा इस देश में 12,167 लोगों के इस वायरस से संक्रमित होने का संदेह भी है. चीन में इस वायरस से अबतक 212 लोगों की मौत हो चुकी है.

18 देशों में कोरोना वायरस के 82 मामलों की पुष्टि

रपट के मुताबिक चीन से बाहर 18 देशों में कोरोना वायरस के 82 मामलों की पुष्टि हुई है. थाईलैंड में 14, जापान में 11, सिंगापुर में 10, दक्षिण कोरिया में चार, ऑस्ट्रेलिया और मलेशिया में सात-सात, अमेरिका और फ्रांस में पांच-पांच, जर्मनी और संयुक्त अरब अमीरात में चार-चार और कनाडा में कोरोना वायरस के तीन मामलों की पुष्टि हुई है. इसके अलावा वियतनाम में दो, कंबोडिया, फिलिपींस, नेपाल, श्रीलंका, भारत और फिनलैंड में एक-एक कोरोना वायरस के मामलों की पुष्टि हुई है.

दो विशेष विमान आज होंगे चीन रवाना

उधर, चीन में फैले कोरोना वायरस के मद्देनजर भारत सरकार वुहान प्रांत में फंसे भारतीय नागरिकों को निकालने की तैयारी कर रही है. इसके तहत दो विशेष विमानों को आज चीन रवाना किया जाएगा.

केरल की एक छात्रा कोरोना वायरस पॉजीटिव

भारत में केरल की एक छात्रा कोरोना वायरस पॉजीटिव मिली है. ये छात्रा चीन के वुहान में पढ़ती है. गुरुवार को पुणे स्थित भारतीय आयुर्विज्ञान अनुसंधान परिषद (आईसीएमआर) की प्रयोगशाला में छात्रा का सैंपल पॉजीटिव आने के बाद हड़कंप मच गया.

आईसीएमआर-एनआईवी पुणे की निदेशक डॉ. प्रिया अब्राहम ने बताया कि उनके यहां 49 सैंपल की जांच हो चुकी है. इनमें से केवल एक ही सैंपल केरल की छात्रा का पॉजीटिव मिला है. वह चीन के वुहान में पढ़ रही थी.