​रक्षा मंत्री ने लॉन्‍च किया एनसीसी प्रशिक्षण मोबाइल ऐप अब डिजिटल माध्यम से दिया जा सकेगा कैडेटों को प्रशिक्षण

​रक्षा मंत्री ने लॉन्‍च किया एनसीसी प्रशिक्षण मोबाइल ऐप अब डिजिटल माध्यम से दिया जा सकेगा कैडेटों को प्रशिक्षण - Panchayat Times

नई दिल्ली. रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने गुरुवार को नेशनल कैडेट कॉर्प्‍स के डायरेक्टोरेट जनरल (डीजीएनसीसी) में मोबाइल प्रशिक्षण ऐप लॉन्‍च कि​​या. यह ऐप एनसीसी कैडेटों के देशव्यापी ऑनलाइन प्रशिक्षण के संचालन में सहायता करेगा.

कोविड-19 महामारी के मद्देनजर लगाये गए प्रतिबंधों का ​​एनसीसी कैडेटों के प्रशिक्षण पर प्रतिकूल प्रभाव पड़ा था, क्योंकि अधिकांशतः यह संपर्क आधारित ही होता है. चूंकि निकट भविष्य में विद्यालयों​, ​महाविद्यालयों के खुलने की संभावना नहीं है, इसलिए ऐसी आवश्यकता महसूस की जा रही थी कि डिजिटल माध्यम से एनसीसी कैडेटों को प्रशिक्षण दिया जा सके.

दृढ़ संकल्प और आत्म विश्वास के साथ आगे बढ़ने वाला ही जीवन में सफलता प्राप्त करने में सक्षम होता है

रक्षा मंत्री ने ऐप की लांचिंग के दौरान वीडियो कॉन्‍फ्रेसिंग के जरिये एनसीसी कैडेटों से बातचीत भी की और उन्हें जीवन के सभी क्षेत्रों में उत्कृष्ट प्रदर्शन करने को प्रेरित किया. एनसीसी कैडेटों को अपने संबोधन में रक्षा मंत्री ने कहा कि यह ऐप उनके लिए डिजिटल तरीके से सीखने तथा प्रत्यक्ष मुलाकातों पर प्रतिबंध के कारण आईं चुनौतियों का सामना करने में उपयोगी होगा. उन्होंने कहा कि दृढ़ संकल्प और आत्म विश्वास के साथ आगे बढ़ने वाला ही जीवन में सफलता प्राप्त करने में सक्षम होता है.

एकता, अनुशासन और देश की सेवा करने की सीख से ही एनसीसी के कई कैडेट आगे चलकर महान हस्ती बन गए

राजनाथ सिंह ने एक लाख से अधिक एनसीसी कैडेटों के योगदान की सराहना की जिन्होंने कोरोना की लड़ाई में विभिन्न दायित्वों का निर्वहन करके अग्रिम पंक्ति के कोरोना योद्धाओं की सहायता की. उन्होंने कहा कि एकता, अनुशासन और देश की सेवा करने की सीख मिलने से ही एनसीसी के कई कैडेट आगे चलकर महान हस्ती बन गए.

उन्होंने उदाहरण के रूप में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी, एयर मार्शल अर्जन सिंह, खिलाड़ी अंजलि भागवत, पूर्व विदेश मंत्री सुषमा स्वराज और पूर्व रक्षा मंत्री मनोहर पर्रिकर के नाम गिनाये. रक्षा मंत्री ने कहा कि वे खुद भी एनसीसी कैडेट रह चुके हैं. 

ऐप का उद्देश्य एनसीसी कैडेटों को एक प्लेटफार्म पर समस्त प्रशिक्षण सामग्री उपलब्ध कराना

डीजीएनसीसी मोबाइल प्रशिक्षण ऐप का उद्देश्य एनसीसी कैडेटों को एक प्लेटफार्म पर समस्त प्रशिक्षण सामग्री उपलब्ध कराना है. इस ऐप को परस्पर संवादमूलक बनाया गया है. यानी कोई भी कैडेट प्रशिक्षण सिलेबस के बारे में प्रश्न पूछ सकता है और उसका उत्तर योग्य इंस्ट्रक्टरों के एक पैनल द्वारा दिया जाएगा.

राजनाथ सिंह ने कहा कि यह ऐप निश्चित रूप से प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के डिजिटल इंडिया विजन की तर्ज पर एनसीसी प्रशिक्षण के ऑटोमेशन की दिशा में एक सकारात्मक कदम है. इस अवसर पर एनसीसी के महानिदेशक डॉ. अजय कुमार, लेफ्टिनेंट जनरल राजीव चोपड़ा एवं मंत्रालय के अन्य वरिष्ठ सिविल तथा सैन्य अधिकारी भी उपस्थित थे.