दिल्ली के प्रोफेसरों ने की राष्ट्रहित में मतदान करने की अपील

दिल्ली के प्रोफेसरों ने की राष्ट्रहित में मतदान करने की अपील-Panchayat Times
फाइल फोटो

दिल्ली. दिल्ली में 8 फरवरी 2020 को होने वाले विधानसभा चुनाव के लिए कई बड़े संस्थान के बुद्धिजीवियों ने राजधानी के विकास और राष्ट्रहित में मतदान करने की अपील की है. दिल्ली, विश्वविद्याल, जवाहर लाल नेहरू विश्वविद्यालय, जामिया मिलिया इस्लामिया, गुरु गोबिंद सिंह इन्द्रप्रस्थ विश्वविद्यालय सहित विभिन्न शैक्षणिक संस्थानों के 400 से अधिक शिक्षकों, शोध कर्त्ताओं ने दिल्ली में सत्तारूढ़ आम आदमी पार्टी के नेतृत्व वाली सरकार के विरुद्ध विकास व शिक्षा व्यवस्था की बेहतरी के लिए संकल्परत राष्ट्रवादी सोच के समर्थन में मतदान की अपील की है.

विभिन्न शैक्षणिक संस्थानों से संबद्ध बुद्धिजीवियों की ओर से जारी इस अपील में दिल्ली में पिछले पांच सालों से बेहाल हुई. शिक्षा व्यवस्था में कॉलेजों का अनुदान रोके जाने से त्रस्त शिक्षक समुदाय के दुख का उल्लेख मुख्य रूप से किया गया. अपील में कहा गया है कि दिल्ली में पिछले पांच सालों में उच्च शिक्षा बेहाल हुई है. कॉलेजों का अनुदान रोकने के चलते शिक्षक समुदान दिल्ली की मौजूदा सरकार से त्रस्त है. दिल्ली में नए खुले 28 कॉलेजों में अधिकांश भारतीय जनता पार्टी के नेतृत्व वाली सरकार ने खोलें . बुद्धिजीवियों ने आम आदमी पार्टी की नाकामियों के चलते दिल्ली विधानसभा चुनाव 2020 के लिए भाजपा की ओर से जारी संकल्प पत्र में की गई घोषणाओं की प्रशंसा करते हुए दिल्लीवासियों से भाजपा के पक्ष में मतदान की अपील की.


नेशनल डेमोक्रेटिक टीचर्स फ्रंट (एनडीटीएफ) के पूर्व अध्यक्ष व दिल्ली विश्वविद्यालय कार्यकारी परिषद के पूर्व सदस्य डॉ. एके भागी ने कहा कि शिक्षा के क्षेत्र में सुधार के लिए के लिए राष्ट्रहित में मतदान की अपील की. उन्होंने कहा कि दिल्ली में राष्ट्रवादी सोच, महिलाओं व गरीबों के शिक्षा, स्वास्थ्य, संविदा कर्मियों के लिए रोजगार सुरक्षा, गरीब छात्राओं की उच्च शिक्षा की गारंटी व शादी में सहायता जैसे मुद्दे दिल्ली की जनता के हित में साबित होंगे.

डॉ. भागी ने कहा कि भाजपा ने बेटी-बचाओं, बेटी पढ़ाओं अभियान के अंतर्गत आर्थिक रूप से कमजोर परिवारों के लिए पहली दो बच्चियों की 21 साल उम्र होने पर 2 लाख रूपये की सहायता देने की घोषणा की है. गरीब विधवा की बेटी की शादी में 51 हजार रूपये का कन्यादान देने का संकल्प भाजपा के संकल्प पत्र में है. शिक्षा को गति प्रदान के लिए आर्थिक रूप से कमजोर नौवीं व दसवीं कक्षाओं की छात्राओं के लिए निःशुल्क साइकिल व कॉलेज जाने वाली छात्राओं के लिए निःशुल्क स्कूटी देने की घोषणा भी की है.

‘केजरीवाल सरकार ने 500 स्कूल व 20 नए कॉलेज खोलने का वादा किया था लेकिन खोला एक भी नहीं’

दिल्ली विश्वविद्यालय कार्यकारी परिषद् के सदस्य डॉ. वीएस नेगी ने कहा कि मौजूदा आम आदमी पार्टी के नेतृत्व वाली सरकार के पर हमला बोलते हुए कहा कि केजरीवाल सरकार ने 500 स्कूल व 20 नए कॉलेज खोलने का वादा किया था लेकिन खोला एक भी नहीं. भाजपा ने अपने संकल्प पत्र में 200 नए स्कूल व 10 नए कॉलेज खोलने की बात की है और छात्रों के लिए हर वार्ड में लाइब्रेरी खोलने की बात भी है.

अतिथि शिक्षकों के साथ हुए धोखे का जिक्र करते हुए डॉ. नेगी ने कहा कि केजरीवाल सरकार ने दिल्ली के स्कूलों में कार्यरत अतिथि शिक्षकों के साथ भी धोखा किया, जिसका जवाब शिक्षक इस चुनाव में देंगे.इससे इतर भाजपा द्वारा फिट इंडिया और खेलो इंडिया के तहत नई खेल नीति की घोषणा की गई है जो दिल्ली के युवाओं को खेलकूद में आगे आने के अवसर प्रदान करती है.