हिमाचल में आई नई उद्योग निति से उद्योग और पर्यटन को लगेंगे पंख : शांता कुमार

हिमाचल में आई नई उद्योग निति से उद्योग और पर्यटन को लगेंगे पंख : शांता कुमार -Panchayat Times
साभार इंटरनेट

सोलन. पूर्व मुख्यमंत्री भाजपा के कद्दावर नेता शांता कुमार की अध्यक्षता में प्रेस वार्ता का आयोजन किया गया. उन्होंने इस मौके पर कहा कि कांग्रेस कार्यकाल में निवेशक उद्योगपति दर दर की ठोकरें खा रहे थे. उनकी औपचारिकताएं ही पूरी नहीं होती थी लेकिन अब जय राम सरकार में निवेशकों के पक्ष में निति बनाई गई है.

जिसमें निवेशकों को कहीं भी जाने की जरूरत नहीं है बल्कि उनकी सभी औपचारिकताएं सरकार छे माह के भीतर पूरी कर उन्हें प्रदान करेगी. जिस से उन्हें उम्मीद है कि जल्द ही हिमाचल में निवेशकों की संख्या बढ़ेगी. उन्होंने कहा कि चम्बा को स्विजर लैंड बनाना उनका सपना था. वह भी पूरा होता अब उन्हें दिखाई दे रहा है. पहले हिमाचल की राजनीति में सहयोग की परम्परा थी. पक्ष विपक्ष प्रदेश की विकास की चिंता करते थे लेकिन अब केवल विरोध के लिए विरोध की राजनीति की जा रही है. उन्होंने कहा कि पहले मूल्यों पर आधारित राजनीति होती थी लेकिन अब वह सब बातें गौण हो चुकी है. उन्होंने कहा कि अब वह राजनीति से सन्यास ले चुके है और केवल राजनीति में केवल गेस्ट आर्टिस्ट की भूमिका निभा रहा हूं.

पूर्व मुख्यमंत्री शांता कुमार ने कहा कि बेशक देश में कांग्रेस को 18 प्रदेशों में हरा कर भाजपा ने ऐतिहासिक जीत हासिल की है लेकिन इस विजय से लोकतंत्र कमजोर हुआ है. विपक्ष विपक्ष की भूमिका नहीं निभा पा रहा है. कांग्रेस की हार ने कांग्रेस को एक सुनहरी मौका दिया था कि कांग्रेस परिवार की गुलामी से बाहर निकल सकती थी और कर्ण सिंह और प्रणव मुखर्जी जैसे नेताओं का मार्ग दर्शन उन्हें मिल सकता था.

यह मौका भी कांग्रेस चूक गई. भ्रष्टाचार पर पूछे सवाल पर उन्होंने कहा कि देश में भ्रष्टाचार को खत्म करने का प्रयास किया जा रहा है, लेकिन इसकी जड़ें बहुत नीचे तक फैल चुकी है. जिन्हें जनता के सहयोग के बिना नहीं उखाड़ा जा सकता. उन्होंने अवैध निर्माणों को लेकर कहा कि जिन अधिकारियों के कार्यकाल के दौरान अवैध निर्माण हिमाचल में हुए है उनके खिलाफ प्रदेश सकरार को सख्त कार्रवाई अम्ल में लाई जानी चाहिए.