प्रदेश के सभी पीएचसी में मिलेगी डेंटल डॉक्टर की सुविधा

सुंदरनगर (मंडी). मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर का कहना है कि भविष्य में हिमाचल प्रदेश के सभी पीएचसी यानी प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रों पर डेंटल डॉक्टरों की तैनाती की जाएगी. ताकि ग्रामीणों को दांतों की बीमारियों से संबंधित इलाज के लिए कहीं दूर न जाना पड़े.

यह घोषणा उन्होंने डेंटल कालेज सुंदरनगर के सिल्वर जुबली समारोह को संबोधित करते हुए की. सीएम ने कहा कि आज हिमाचल प्रदेश के लोग अपने दांतों की देखभाल को लेकर सजग हुए हैं. यही कारण है कि डेंटल डाक्टरों की ओपीडी में मरीजों की संख्या बढ़ती जा रही है. सीएम ने कहा कि प्रदेश में चरणबद्ध तरीके से सभी पीएचसी स्तर के अस्पतालों में डेंटल डाक्टरों की तैनाती की जाएगी ताकि ग्रामीणों को इस सुविधा का लाभ दिया जा सके.

वहीं सीएम जय राम ठाकुर ने अपने कालेज के दिनों का याद करते हुए बताया कि उन्हें उस समय अपना एक दांत निकलवाना पड़ा था. दांत में अधिक दर्द होने के कारण डाक्टर ने दांत निकाल दिया था. क्योंकि इसका कोई और विकल्प नहीं था. उन्होंने बताया कि आज भी वह अपने निकाले जा चुके उस दांत को याद करते हैं. क्योंकि अब उनके मुहं में 32 नहीं 31 दांत ही रह गए हैं.

उन्होंने आगे कहा कि आज इस क्षेत्र में बहुत अधिक तरक्की हुई है और नई तकनीक के चलते बहुत ज्यादा जरूरी होने पर ही दांत निकाला जाता है. जबकि निकाले जाने वाले दांत के स्थान पर दूसरा दांत लगाने की सुविधा भी अब मिल रही है. समारोह में स्वास्थ्य मंत्री विपिन सिंह परमार, शहरी विकास मंत्री सरवीन चौधरी, सांसद राम स्वरूप शर्मा, विधायक विनोद कुमार, इंद्र सिंह गांधी और राकेश जम्वाल सहित अन्य गणमान्य लोग भी मौजूद रहे.