धूमल ने मोदी और कांग्रेस में बताया फर्क

धूमल ने मोदी और कांग्रेस में बताया फर्क-Panchayat Times

हमीरपुर. पूर्व मुख्यमंत्री प्रो. प्रेम कुमार धूमल ने बुधवार को हमीरपुर व सुजानपुर विधानसभा क्षेत्र में विभिन्न स्थानों पर जनसभाओं को संबोधित करते हुए कहा कि पूर्व की कांग्रेस सरकारों और मोदी सरकार में यही फर्क है कि कांग्रेस सरकारें राष्ट्र की सुरक्षा के मामले में कड़े निर्णय लेना तो दूर रहा, उल्टा सुरक्षाबलों के अधिकारों में भी कटौती करती रही जबकि मोदी सरकार ने दुश्मन की सीमा के भीतर सर्जिकल स्ट्राइक करके अपने जवानों की शहादत का बदला लिया.

उन्होंने कहा 2016 में उड़ी की घटना के बाद भारतीय सेना ने पहली बार सीमा पार करके आतंकी शिविर तहस-नहस किए और इस वर्ष पुलवामा घटना के बाद एक बार फिर दुश्मन की सरहद के भीतर अपने लड़ाकू विमानों के जरिए आतंकी शिविर उड़ाए.उन्होंने कहा मोदी जैसा सशक्त नेतृत्व ही दुश्मन के हौसले पस्त कर सकता है.

प्रो. धूमल ने कहा कि आज कांग्रेस के नेता दावे कर रहे हैं कि उन्होंने 6 बार सर्जिकल स्ट्राइक की थी. लेकिन ये सर्जिकल स्ट्राइक कब की थी, कहां की थी और किसके खिलाफ की थी, इस बारे कांग्रेस के नेता देश की जनता को कुछ नहीं बता पा रहे. उन्होंने कहा असलियत तो यह है कि कांग्रेस में ऐसा कोई हिम्मतवाला नेतृत्व ही नहीं था जो सेना को दुश्मन के दुस्साहस का माकूल जवाब देने के लिए फ्री हैंड देता.

सुरेश चंदेल अभी भी संभल सकते हैं : शांता कुमार

उन्होंने कहा कि मोदी सरकार न केवल सैनिकों के शौर्य का सम्मान करती है बल्कि सैनिकों की सुविधाओं का भी पूरा ध्यान रखती है. मोदी सरकार ने सत्तासीन होने के बाद सैनिकों को दुनिया की बेहतरीन बुलेट प्रूफ जैकेट मुहैया करवाने का सिलसिला शुरू किया. पहले जब कोई सिपाही पेंशन आता था तो उसे नाम मात्र की पेंशन मिलती थी लेकिन आज उसे न्यूनतम साढे बाइस हज़ार की पेंशन मिलती है.

उन्होंने कहा अपने चुनावी घोषणापत्र में भाजपा ने यह वादा किया है कि 60 साल की आयु सीमा से ऊपर वाले किसान मजदूर और छोटे दुकानदार की अगर आमदनी का कोई जरिया नहीं होगा तो उसे ₹3000 मासिक पेंशन दी जाएगी ताकि वह अपना जीवन यापन कर सके. उन्होंने कहा मोदी सरकार ने महंगाई पर अंकुश लगाकर आम आदमी को राहत प्रदान की है.