हिमाचल के चंबा में फिर भूकंप के झटके, दो दिन में छह बार हिली धरती

शिमला. हिमाचल प्रदेश के चंबा जिले में बार-बार आ रहे भूकंप से लोग सहम गए हैं. सोमवार रात 09 बजकर 27 मिनट पर यहां एक बार फिर भूकंप के झटके महसूस किए गए. रिक्टर स्केल पर भूकंप की तीव्रता 3.2 मापी गयी है. भूकंप का केंद्र चंबा व जम्म-कश्मीर के सीमांत क्षेत्र में जमीन से 10 उल्लेखनीय है कि चंबा में बीते दो दिनों में छह बार भूकम्प के झटके महसूस किये गये है. सोमवार को भूकंप के चार झटके महसूस किए गए.

अहम बात यह रही कि एक घण्टे के भीतर तीन बार भूकम्प आया. भूकंप का पहला झटका सोमवार दोपहर 12 बजकर 10 मिनट पर आया, जिसकी तीव्रता रिएक्टर स्केल पर 05 रही. दूसरा झटका 12 बजकर 40 मिनट पर लगा, जिसकी तीव्रता 3.2 मापी गई. इसके बाद 12 बजकर 57 मिनट पर 2.7 की तीव्रता के भूकंप के झटके महसूस किए गए.

चंबा में एक घंटे के भीतर भूकंप के तीन झटके, लोग सहमे

तीन बार आए  भूकंप का केंद्र जमीन से पांच किलोमीटर नीचे चम्बा व जम्मू कश्मीर का सीमावर्ती इलाका ही रहा. इससे पहले बीते रविवार को भी चंबा में दो बार भूकंप आया था. मौसम विज्ञान केंद्र शिमला के निदेशक मनमोहन सिंह ने मंगलवार को बताया कि भूकंप से किसी तरह के जानमाल के नुकसान की कोई सूचना नहीं है. चंबा में पिछले कुछ वर्षों से कई बार कम तीव्रता के भूकम्प के झटके महसूस किए जाते रहे हैं. इससे पहले बीते 22 अगस्त को 2.7 की तीव्रता के भूकंप के झटके महसूस किए गए थे. विगत 25 जुलाई को भी यहां भूकम्प आया था.

हिमाचल प्रदेश भूकंप की दृष्टि से अतिसंवेदनशील जोन-4 व जॉन-5 में स्थित है, ऐसे में यहां पर भूकंप आने की ज्यादा संभावना है. साल 1905 में कांगड़ा व चंबा जिलों में आए विनाशकारी भूकम्प से 10 हजार से अधिक लोग मारे गए थे.