शिक्षा के प्रचार-प्रसार से ही सामाजिक बुराईयों को समाप्त किया जा सकता है : कांग्रेस

शिक्षा के प्रचार-प्रसार से ही सामाजिक बुराईयों को समाप्त किया जा सकता है : कांग्रेस

रांची. झारखंड प्रदेश कांग्रेस के तत्वावधान में गुरुवार को पार्टी कार्यालय में पूर्व राष्ट्रपति सर्वपल्ली राधाकृष्णन की जयन्ती और संत मदर टेरेसा की पुण्यतिथि मनाई गयी. इस अवसर पर प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष रामेश्वर उरांव ने दोनों के चित्र पर माल्यार्पण कर श्रद्धांजलि अर्पित की.

उरांव ने राधाकृष्णन को महान दार्शनिक, लेखक और शिक्षाविद् बताया. उन्होंने कहा कि हम राधाकृष्णन की जयन्ती को ‘‘शिक्षक दिवस’’ के रूप में मनाते हैं. उन्होंने कहा कि शिक्षा के प्रचार-प्रसार से ही सामाजिक बुराईयों को समाप्त किया जा सकता है. शैक्षणिक स्तर में सुधार लाने के लिए ‘‘विश्वविद्यालय अनुदान आयोग’’ की स्थापना राधाकृष्णन आयोग के प्रमुख अनुमोदनों में से एक है. इसी आयोग के द्वारा ही आज देश के सभी विवि एवं महाविद्यालयों में उच्चतर शिक्षा व्यवस्था संचालित की जा रही है.

उरांव ने कहा कि राधाकृष्णन को एक सफल राष्ट्रपति के रूप में भी हमेशा याद किया जायेगा. उरांव ने संत मदर टेरेसा की जीवनी एवं उनके व्यक्तित्व की चर्चा करते हुए उन्हें मानव सेवा की जननी बताया. जिन्होंने जीवनपर्यन्त गरीब-दीन-दुखियों की सेवा में ही अपना जीवन बिताया. उरांव ने कहा कि उनकी सेवा भावना को भुलाया नहीं जा सकता है.