जैसलमेर से आया राजस्थान की राजनीति में तूफान, पूर्व महारानी लड़ेंगी चुनाव

रासेश्वरी राज्यलक्ष्मी. जिन्होंने आने वाले राजस्थान विधानसभा चुनाव में जैसलमर

जयपुर. पाकिस्तान से सटे मरुस्थली जैसलमेर ने राजस्थान की राजनीति में तूफान ला दिया है. और इसकी वजह बनी हैं पूर्व महारानी रासेश्वरी राज्यलक्ष्मी. जिन्होंने आने वाले राजस्थान विधानसभा चुनाव में जैसलमर से लड़ने का मन बना लिया है. अब कांग्रेस और भाजपा को समझ नहीं आ रहा है कि महारानी किस पार्टी से चुनाव लड़ेंगी.

पूर्व महारानी के इस घोषणा के साथ ही राजनीतिक गलियारों में हलचल बढ़ गई है. वहीं, मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे और प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष सचिन पायलट समझ नहीं पा रहे हैं कि रासेश्वरी राज्यलक्ष्मी हाथ को अपना चुनाव चिह्न बनाएंगी या फूल को. क्योंकि उन्होंने अभी तक अपने पत्ते नहीं खोले हैं और ये नहीं बताया है कि वो किस पार्टी में शामिल होना चाहती हैं.

रासेश्वरी राज्यलक्ष्मी. जिन्होंने आने वाले राजस्थान विधानसभा चुनाव में जैसलमर

ये  भी पढ़ें- कांग्रेस ने आज से राजस्थान में शुरू की संकल्प रैली

राज्यलक्ष्मी ने राजपूत समाज के साथ हुई बैठक में विधानसभा चुनाव लड़ने की इच्छा जाहिर की. उन्होंने समाज के लोगों से अपने लिए समर्थन भी मांगा. हालांकि, उन्होंने इस बैठक के दौरान किसी दल को लेकर कोई खुलासा नहीं किया. पूर्व महारानी की तरफ से चुनाव लड़ने की घोषणा के बाद स्थानीय लोगों की निगाहें भी उनपर टिक गई हैं. सभी जानना चाहते हैं कि उनका आगे का फैसला क्या होगा. हालांकि, माना ये भी जा रहा है कि उनका झुकाव कांग्रेस की तरफ अधिक है.