किसान, बेरोजगार कांग्रेस गठबंधन की पहली प्राथमिकता : राहुल गांधी

राहुल गांधी आज करेंगे दो चुनावी सभा-Panchayat Times

रांची/सिमडेगा. कांग्रेस के स्टार कैंपेनर और पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने कहा है कि अगर झारखंड में कांग्रेस गठबंधन की सरकार बनेगी तो छत्तीगढ़ की तरह यहां के किसानों का कर्जा माफ किया जाएगा. आदिवासियों के जल, जंगल और जमीन की रक्षा की जाएगी. साथ ही बरोगजारी हटाने पर भी कांग्रेस गठबंधन की सरकार काम करेगी. राहुल ने नरेंद्र मोदी पर आरोप लगाते हुए कहा कि मोदी दिनभर टीवी पर आते रहते हैं, इनके मार्केटिंग का पैसा हिंदुस्तान के 15 से 20 बड़े उद्योगपति देते हैं जिनका साढ़े पांच साल में तीन लाख 50 हजार करोड़ रुपए माफ किया गया है. राहुल गांधी सिमडेगा में कांग्रेस गठबंधन के प्रत्याशी के पक्ष में चुनाव प्रचार करने यहां आए थे.

एक साल के अंदर बदल दिया छत्तीसगढ़ का चेहरा

राहुल गांधी ने कहा कि छत्तीसगढ़ में एक साल पहले चुनाव हुआ था. वहां भी झारखंड की तरह आदिवासी भाई-बहन हैं. यहां जो आदिवासी, किसान और युवा के साथ भाजपा की सरकार कर रही थी, वहां भी ऐसा ही होता था. चुनाव के बाद कांग्रेस की सरकार बनी, हमने एक साल के अंदर छत्तीसगढ़ का चेहरा बदल दिया है. छत्तीसगढ़ में पहले भाजपा की सरकार में हर जिले में आदिवासियों से उनकी जमीन छिन ली जाती थी और उद्योगपतियों को दे दी जाती थी. सरकार कोई कारण नहीं बताती थी. हमारी सरकार आई जब हिंदुस्तान में पहली बार टाटा कंपनी से जमीन वापस लेकर जिन आदिवासियों की जमीन थी, उन्हें वापस दी गई. जब कांग्रेस की सरकार दिल्ली में थी. हम जमीन अधिग्रहण बिल लेकर आए थे जिसका काम आदिवासियों गरीबों और किसानों की जमीन की रक्षा करना था. उसमें था कि अगर किसी की जमीन उद्योगपति को दी जाएगी. पांच साल के अंदर अगर उद्योग नहीं लगा तो वो जमीन उसके मालिक के हवाले कर दी जाएगा.

 

जमीन उद्योगपतियों को दी जाती थी लेकिन किसान को समर्थन मूल्य नहीं मिलता था

राहुल गांधी ने कहा कि छत्तीसगढ़ में धान 2500 रुपए क्विंटल मिल रहा है. ये ऐसा प्रदेश है जो ऐसा काम कर रहा है. चुनाव के समय भाजपा ने कहा था कि ऐसा किया ही नहीं जा सकता है. जहां भी भाजपा की सरकार है, उद्योगपति को जमीन दी जाती है लेकिन किसान को धान का उचित मूल्य नहीं मिलता. केंद्र में भाजपा की सरकार को साढ़े पांच साल का वक्त हो गया है, झारखंड में भी भाजपा की सरकार है, अन्य प्रदेश में भी इनकी सरकार है. जहां भी भाजपा की सरकार है किसानों का कर्ज माफ नहीं हुआ. लेकिन जहां भी कांग्रेस की सरकार आई किसानों का कर्जा माफ कर दिया गया. यही वादा यहां करने आया हूं. जैसे छत्तीसगढ़ में आदिवासियों और किसानों की जमीन की रक्षा की गई है, किसान का कर्जा माफ किया गया है, वैसे ही यहां सरकार बनने के बाद किसानों का कर्जा माफ किया जाएगा, जमीन की रक्षा की जाएगी.

 

15 से 20 बड़े उद्योगपतियों का तीन लाख 50 हजार करोड़ रुपए का कर्जा माफ

राहुल ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और मुख्यमंत्री रघुवर दास हर भाषण में रोजगार की बात करते हैं. मेक इन इंडिया की बात करते हैं. मैं पूछना चाहता हूं कि झारखंड के कितने युवाओं को रोजगार मिला? आपको एक भी व्यक्ति ऐसा नहीं मिलेगा जिसे रोजगार मिला हो. मोदी ने कहा था कालेधन के खिलाफ लड़ाई लड़नी है, नोटबंदी कर दी गई. उस वक्त लाइन में एक भी उद्योगपति लाइन में नहीं खड़ा था. किसान, बेरोजगारों को मोदी ने लाइन में खड़ा कर दिया, आपके जेब से पैसा निकाल लिया. इन पैसों को मोदी ने हिंदुस्तान के बड़े उद्योगपतियों को दे दिया.

राहुल ने कहा कि तीन लाख 50 हजार करोड़ रुपए 15 से 20 बड़े उद्योगपतियों का माफ किया गया. नोटबंदी के दौरान जो छोटे बिजनेस चलाते थे, उन सबको बर्बाद कर दिया गया. इसके बाद जीएसटी लाए, इससे किसी को फायदा नहीं हुआ. किसान, छोटे दुकानदार एक सुर में कहते हैं, नुकसान हुआ है. नोटबंदी और जीएसटी का फायदा हिंदुस्तान के 15 से 20 बड़े उद्योगपतियों को हुआ है. ऐसी सरकार हमें नहीं चाहिए. मैं गारंटी देता हूं कि झारखंड में गरीबों आदिवासियों गरीबों की सरकार बनेगी तो आपकी रक्षा होगी. जहां भाजपा की सरकार बनती है वे लोगों को कुचलते हैं. कभी धन के कारण, कभी विचारधारा के कारण, कभी संस्कृित के कारण लोगों को दबाया जाता है. मैं आश्वासन देता हूं कि कांग्रेस की सरकार आएगी जो आपको डराया धमकाया जाता है वो हम नहीं होने देंगे.

न्याय योजना से देश के युवाओं को मिल सकता है रोजगार 

राहुल ने कहा कि लोकसभा चुनाव के समय हमने न्याय योजना की बात की थी. हर गरीब के बैंक अकाउंट में पैसा डालने की योजना थी. चुनाव हार गए, न्याय योजना नहीं ला पाए. ऐसी योजना से देश की युवाओं को रोजगार मिल सकता है. मोदी ने जब नोटबंदी, जीएसटी लागू की. उस वक्त आपके घरों और जेब से उन्होंने पैसा निकाला, आपने माल खरीदना बंद किया. भोजन का अधिकार, मनरेगा था तो आपके जेब में पैसा था. आप सबकुछ खरीदते थे. आपने माल खरीदना बंद किया तो फैक्ट्री बंद हो गई. फैक्ट्री मालिकों ने युवाओं को रोजगार देना बंद कर दिया. बेरोजगारी से लड़ना है तो किसानों के जेब में पैसा डालना होगा. ऐसा हुआ तो आप माल खरीदेंगे, फैक्ट्री शुरू होगी. रोजगार मिलेगा. मोदी आपसे पैसा छिनते हैं और विजय माल्या, अनिल अंबानी, मेहुल चौकसी जैसे चोरों के जेब में डाल देते हैं. मोदी सरकार ने उनका टैक्स माफ किया मगर उससे रोजगार नहीं पैदा होने वाला.

 

उन्होंने कहा कि जब तक सरकार गरीबों को मनरेगा जैसी योजनाएं नहीं मिलेगी रोजगार पैदा नहीं होने वाला है. उन्होंने कहा कि मोदी सरकार का लक्ष्य आपके धन को अंबानी-अडाणी को देने का है. मोदी दिनभर टीवी पर आएंगे, गरीबों और किसानों की बात करेंगे लेकिन आपको एक रुपए नहीं मिलेगा. पहले 35 किलो अनाज मिलता था आज पांच किलो अनाज मिलता है. 30 किलों का पैसा 15 से 20 उद्योगपतियों के जेब में गया है. दिल्ली में इस बार सरकार नहीं बनी, अगली बार बन जाएगी. झारखंड में गठबंधन की सरकार बनानी ही पड़ेगी. आप अपनी जमीन, जल और जंगल की रक्षा करना चाहते हो तो आपका कांग्रेस गठबंधन को समर्थन देना ही पड़ेगा नहीं तो आपको नुकसान होगा.

उन्होंने कहा कि देश एक विचारधारा का नहीं है, यहां अलग-अलग विचारधाराएं हैं. अलग धर्म है. अलग जाति है, सोच है. कांग्रेस पार्टी सबको लेकर चलती है. प्यार से देश को आगे ले जाती है. हम धर्म के कारण, संस्कृति के कारण, जाति के कारण किसी पर आक्रमण नहीं करते. हम हिंसा का प्रयोग नहीं करते, प्यार से काम करते है. यही हिंदुस्तान की शक्ति है.

सात दिसंबर को डाले जाएंगे वोट

झारखंड विधानसभा चुनाव के तहत दूसरे चरण में 7 दिसंबर को सिमडेगा समेत 20 सीटों पर मतदान होंगे. 20 सीटों में सिमडेगा के अलावा बहरागोड़ा, घाटशिला, पोटका, जुगसलाई, जमशेदपुर पूर्वी, जमशेदपुर पश्चिमी, सरायकेला, चाईबासा, मझगांव, जगन्नाथपुर, मनोहरपुर, चक्रधरपुर, खरसांवा, तमाड़, तोरपा, खूंटी, मान्डर, सिसई, और कोलेबरा शामिल है.