किसानों ने की आम कलेक्शन सेंटर खोलने की मांग

धर्मपुर (मंडी)हिमाचल किसान सभा ने धर्मपुर खंड में बागवानी करने वाले किसानों की ओर से तैयार किए गए. आम की खरीद के लिए कलेक्शन सेंटर खोलने की मांग की है.

आम की पैदावार की खरीद के लिए कलेक्शन सेन्टर खोलने की मांग की है. वर्तमान में यहां कोई सेंटर नहीं है जबकि धर्मपुर विकास खंड के संधोल, कोट भरौरी,स्योह, दबरोट,गरली घरवासड्डा डरवाड़,लौंगनी त्रैम्बला, हरलोट चोलथरा और रखोह क्षेत्र में किसानों द्वारा उन्नत किस्म के आमों के बगीचे लगाए हैं. इसके अलावा सभी पंचायतों में देशी किस्म का आम भी काफी मात्रा में पैदा होता है. लेकिन, किसानों को अपने आम बेचने के लिए यहां कोई केंद्र सरकार ने नहीं खोला है.

जिस कारण किसानों की फसल का उन्हें सरकार की ओर से निर्धारित समर्थन मूल्य नहीं मिल रहा है. किसान सभा के खंड अध्यक्ष और जिला पार्षद भूपेंद्र सिंह ने बताया कि प्रदेश सरकार ने दो दिन पहले मन्त्री मण्डल की बैठक में आम का समर्थन मूल्य सात रुपए कर दिया है. लेकिन, इसका लाभ तभी किसानों को मिलेगा जब आम क्रय करने के लिए यहां कोई केंद्र सरकार खोलेगी. हालांकि बागवानी मंत्री भी धर्मपुर से ही हैं. लेकिन, अभी तक यहां कोई सुविधा किसानों को उपलब्ध नहीं हुई है. जबकि आम की फसल तैयार हो चुकी है.

उन्होंने आम की पैदावार को देखते हुए संधोल, धर्मपुर, सजाओपीपलु, चोलथरा, रखोह, मढ़ी और मंडप में कलेक्शन सेंटर जल्दी खोलने की मांग की है. भूपेंद्र सिंह ने यह भी मांग की है कि विभाग को आम आधरित उद्योग स्थापित करने के लिए पहल करनी चाहिए, ताकि किसानों की पैदवार का उनको लाभकारी मूल्य हरसाल मिलता रहे और बागवानी को लोग ज्यादा से ज्यादा बढ़ावा देने के लिए प्रोतसाहित हो सकें.

किसान सभा खंड कमेटी सदस्य टोडरमल, कमर सिंह विष्ट, रूपलाल, बालम राम, देश राज, टेक सिंह, अंनत राम, शिव राम, सुरजीतसिंह, मिलाप चन्देल, रंताज राणा, ओमचन्द, कशमीर सिंह, करतार सिंह, रामचन्द,मेहर सिंह इत्यादि ने बागवानों की ओर से तैयार की गई.