पिछले साल सेब के भाव में बिका हिमाचली टमाटर, मगर इस बार…

सोलन. इस बार सोलन में टमाटर का सीजन बुरी तरह से पिट गया है. किसानों को पिछले साल टमाटर के एक क्रेट की कीमत 1500 रुपए तक मिले. वहीं, इस बार किसानों को पिछले साल की तुलना में क्रेट के आधे दाम भी नहीं मिल रहे हैं. जिसकी वजह से किसान हताश नजर आ रहे हैं. इस बार टमाटर की फसल बेहद अच्छी हुई थी. किसान अच्छे मुनाफे की उम्मीद कर रहे थे लेकिन उनकी सभी उम्मीदों पर पानी फिर गया है. शुरुआत में किसानों को अच्छे दाम मिल रहे थे लेकिन जैसे ही दक्षिण भारत का टमाटर मार्केट में आया वैसे ही हिमाचल के टमाटर की मांग घट गई, जिसकी वजह से दाम भी गिर गए.

ये भी पढ़ें- ‘जयराम सरकार हमारे पैसे दिलवाओ, नहीं तो 2019 में चुनाव का बहिष्कार’

सोलन एपीएमसी के सचिव प्रकाश कश्यप ने बताया कि किसान खेत में बिजाई करने से पहले कृषि विभाग के विशेषज्ञ की सलाह ज़रूर लें जिससे किसान मंदी की मार से बच सके. उन्होंने बताया की पिछले वर्ष किसानों को टमाटर की फसल के दाम बहुत अच्छे मिले थे और टमाटर के दाम सेब के बराबर पहुंच गए थे. इस बार भी अच्छे दाम के चक्कर में सभी किसानों ने अन्य फसले छोड़ कर टमाटर की फसल ही लगाई जिसकी वजह से टमाटर की पैदावार ज्यादा हो गई और दाम कम रह गए. जिससे किसानों को लाभ की जगह नुकसान सहना पड़ा.