मेयर प्रत्याशी आशा लकड़ा सहित 12 प्रत्याशियों पर एफआईआर दर्ज

रांची. भाजपा की मेयर प्रत्याशी आशा लकड़ा, डिप्टी मेयर प्रत्याशी संजीव विजयवर्गीय, कांग्रेस के डिप्टी मेयर प्रत्याशी राजेश गुप्ता छोटू, डिप्टी मेयर पद के निर्दलीय प्रत्याशी संजय कुमार पांडेय समेत कुल 12 प्रत्याशियों पर ध्वनि प्रदूषण फैलाने के आरोप में एफआईआर दर्ज कराई गई है. जांच में इनके प्रचार वाहन के भोंपू की आवाज निर्धारित डेसिबल से अधिक पाए गए हैं.

आचार संहिता कोषांग के प्रभारी पदाधिकारी ने 12 प्रत्याशियों, संबंधित वाहन मालिक, साउंड सिस्टम देनेवाले दुकानदार के खिलाफ विभिन्न थानाें में प्राथमिकी दर्ज करवाई है. सदर एसडीओ अंजलि यादव के निर्देश पर एफआईआर दर्ज करवाई गई है.

प्रचार गाड़ियों में लगे भोंपूओंं से लोगों को परेशानी हो रही थी. इसको देखते हुए यह कार्रवाई की गई. मालूम हो कि आवासीय क्षेत्र में 55 डेसिबल और व्यावसायिक क्षेत्रों में 65 डेसिबल से अधिक तीव्रता की आवाज में लाउडस्पीकर बजाना मना है.

भाजपा की मेयर प्रत्याशी आशा लकड़ा, डिप्टी मेयर प्रत्याशी संजीव विजयवर्गीय, कांग्रेस के डिप्टी मेयर प्रत्याशी राजेश गुप्ता छोटू, डिप्टी मेयर के निर्दलीय प्रत्याशी संजय कुमार पांडे, वार्ड 26 के प्रत्याशी अरुण कुमार झा, सुमित कुमार यादव, कृष्‍णा कुमार, वार्ड 20 के प्रत्याशी विष्णु देव प्रसाद, वार्ड 29 की प्रत्याशी पदमा देवी, वार्ड 10 के पार्षद प्रत्याशी अर्जुन कुमार यादव, मंजय प्रकाश राम, चंदन लोहार, वार्ड 8 की प्रत्याशी लाली लकड़ा के प्रचार वाहन में तय मानक से अधिक आवाज के भोंपू पाए गए हैं.

इसके साथ ही डिप्टी मेयर का चुनाव लड़ रहे चार उम्मीदवारों को चुनावी खर्च नहीं जमा करने पर नोटस भेजा गया है. सात अप्रैल तक चुनावी खर्च जमा करना था. लेकिन राष्ट्रीय जनता दल के अफरोज आलम, बसपा के आजम अहमद, तृणमूल कांग्रेस के संजय कुमार पांडेय और निर्दलीय प्रत्याशी लखपति साव ने तय समयसीमा के बीत जाने के बावजूद भी अबतक चुनावी खर्च का ब्यौरा नहीं भेजा है. आयोग ने देरी होने पर स्पष्टीकरण मांगा है.