जहां सीएम को पहुंचना था वहां पहुंच गई हाथियां

फाइल फोटो : साभार इंटरनेट

जामताड़ा. जामताड़ा जिला के कुंडहित प्रखंड में मंगलवार सुबह 22 हाथियों का झुंड नाला प्रखंड की सीमा पार कर गुंदलीडीह के रास्ते कुंडहित सीमा में प्रवेश करते हुए, धेनुकडीह में मुख्यमंत्री के लिए तैयार किए जा रहे कार्यक्रम स्थल के करीब मंगलवार को पहुंच गया.

हालांकि झुंड के साथ चल रहे वन विभाग और पुलिस क्युआरटी टीम के लोगों और ग्रामीणो ने हाथियों के झुंड को खेदड़ कर कार्यक्रम स्थल से करीब दो किलोमीटर दुर कोईबाद-हरिनारायणपुर जंगल की ओर खदेड़ दिया. गौरतलब है कि सीएम रघुवर दास का बुधवार 12 दिसम्बर को जिला के नाला एवं कुंडहित में मुख्यमंत्री का प्रस्तावित कार्यक्रम है. दिन भर जंगल के चारो ओर स्थानीय पुलिस और वनकर्मियों की टीम पहरेदारी में जुटी रही.

रघुवर सरकार के चार साल में झारखंड बना मजबूत और खुशहाल : भाजपा
रघुवर दास

हाथियों को देखने के लिए दिनभर चारो ओर से आस पास के गांवो से बड़ी संख्या में लोग हरिनारायणपुर जंगल पहुंच रहे थे. हांलाकि जंगल की ओर पहरेदारी कर रहे वन एंव पुलिस कर्मियो द्वारा उन्हे हाथियो के करीब नहीं जाने देने का प्रयास किया जा रहा था. कुंडहित सीमा में प्रवेश करने के बाद से अभी तक हाथियों के झुंड द्वारा किसी प्रकार का नुकसान नहीं  किया गया है. बावजूद इसके कुंडहित में हाथियों के आने की खबर सुनकर क्षेत्र के लोग खासे चिंतित हो गए है.

किसानों में इस बात का डर समा गया है कि कही हाथियों का झुंड उनके फसल को नष्ट न कर दे. उल्लेखनीय है कि पिछले एक दशक से लगभग प्रत्येक वर्ष हाथियो का झुंड एक से दो बार कुंडहित प्रखंड क्षेत्र का चक्कर जरुर लगाता है. हाथियों के आवागमन की वजह से क्षेत्र में एक दर्जन के करीब लोग असमय काल के गाल में समा चुके है. हाथियों के द्वारा फसल और घर के रुप में अब तक लाखों का नुकसान पहुंचाया गया है.