सार्वजनिक जीवन में काम करने वालों के लिए उनकी छवि ही उनकी पूंजी : हेमंत सोरेन

कोरोना :हेमंत सोरेन ने पलामू के उपायुक्त को लगाई फटकार - Panchayat Times

रांची. रविवार को नेता प्रतिपक्ष हेमंत सोरेन ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर बताया कि मुख्यमंत्री रघुवर दास लगातार असत्य और अपमानजनक बात कर रहे हैं. उन्होंने कहा कि हेमंत सोरेन ने 500 करोड़ की जमीन खरीदी है. हम उनके विचारों पर खंडन करते हैं.

सार्वजनिक जीवन में काम करने वाले लोगों के लिए उनकी छवि ही उनकी पूंजी होती है. मुख्यमंत्री ऐसा कह कर हमारी छवि को नुकसान पहुंचाया है. हेमंत ने बताया कि मुख्यमंत्री को अपने वकील के माध्यम से लीगल नोटिस भेजा है, झूठे आरोप वापस ले झारखंड की जनता को गुमराह करने एवं हमारे छवि को धूमिल करने के प्रयास के लिए सार्वजनिक रूप से माफी मांगे. अगर रघुवर दास 7 दिनों के अंदर ऐसा नहीं करते हैं तो उनके विरुद्ध कानूनी कार्रवाई किया जाएगा.

उन्होंने कहा कि रघुवर दास ने विगत 5 वर्षों में सभी मान मर्यादा का उल्लंघन करते हुए गाली-गलौज और अपशब्दों को राष्ट्रीय भाषा बना दिया है. ये इस देश के एकमात्र मुख्यमंत्री हैं. जिन्होंने सदन में अपशब्दों का प्रयोग किया , जो उनकी भाषा और आचरण वैधानिक पदों पर बैठे लोगों के अनुकूल नहीं है. इसके साथ ही हेमंत सोरेन ने बताया कि उनके आंखों में ठीक से झांक कर देखे तो झारखंडियों और आदिवासियों के विरूद्ध उनके मन में बैठे अपार घृणा साफ-साफ दिखाई देगी. झारखंड मुक्ति मोर्चा भाजपा के झूठ तंत्र लूट तंत्र एवं षड्यंत्र का हर संभव विरोध और पर्दाफाशभी करेगा.

सोरेन ने मुख्यमंत्री को जनता के बीच बेकार करेंगे झारखंड और झारखंडी इन बाहरी ताकतों के विरोध अब एक लंबे संघर्ष के लिए तैयार है. झारखंड के धरती पुत्रों को आतंकित करने का सपना देखे. झारखंडी मर सकता है झुक नहीं सकता यही मेरी इतिहास, संकल्प है. सरकार ने राजनीतिक दुर्भावना से मेरे खिलाफ एसआईटी बनाया. एसआईटी को शिकायत मुख्यमंत्री कार्यालय से भेजा गया एसआईटी की रिपोर्ट सरकार के पास है हम मांग करते हैं कि उस रिपोर्ट को सार्वजनिक किया जाए जो दोषी हैं उस पर कार्यवाही हो.