श्री कृष्ण कला संस्थान का हुआ गठन

कुल्लू. कुल्लू की लोक संस्कृति के संरक्षक, संवर्धन एवं परिरक्षण के लिए जिला मुख्यालय में कृष्ण कला संस्थान का गठन किया गया. संस्थान संस्कृति के संरक्षण की दिशा में काम करेगा. इसीको लेकर मंगलवार को ढालपुर में एक बैठक का आयोजन हुआ.

जिसकी अध्यक्षता लोकगायक आईएस चांदनी ने की. संस्थान के संविधान पर भी विस्तार से चर्चा की गई. संस्था के संविधान निर्माण का जिम्मा खुशहाल सिंह राठौर और आईएस चांदनी को सौंपा गया है. जबकि मीडिया का जिम्मा धनेश गौतम दिया गया. संस्थापक सदस्यों ने कहा कि जल्द ही ब्लाक स्तर पर भी इकाई का गठन किया जाएगा.

खुशहाल सिंह राठौर ने बताया कि संस्था प्राचीनतम गीतों का संग्रह करेगी. हाल ही में प्रसिद्ध लोक गायक आईएस चांदनी ने प्राचीन गीतों का चयन कर एक ऑडियो भाऊआ रूपिए तैयार की है, जिसका विमोचन 24 मार्च को किया जाएगा. विमोचन वन, परिवहन एवं खेल मंत्री गोविंद सिंह ठाकुर करेंगे. कार्यक्रम देवसदन में होगा.

इस दौरान चांदनी ने कहा कि विमोचन के मौके पर प्राचीनतम गीतों पर परिचर्चा भी की जाएगी तथा भविष्य की योजना की रूपरेखा तैयार की जाएगा. इस अवसर पर पूर्व जिला भाषा अधिकारी डॉ. सीता राम ठाकुर, लोकगायिका सरला चंबियाल, शिक्षाविद्व बाला राम ठाकुर, प्रताप ठाकुर, टिकम ठाकुर, दौलत राम राणा, मेहर चंद, राकेश शर्मा, लक्ष्मण ठाकुर भी मौजूद रहे.