पूर्व न्यायाधीश विष्णु सदाशिव विहिप के नए अध्यक्ष

गुरुग्राम. हिमाचल प्रदेश के पूर्व राज्यपाल व राजस्थान एवं मध्यप्रदेश उच्च न्यायालय के न्यायाधीश रहे विष्णु सदाशिव को विश्व हिन्दू परिषद का अध्यक्ष निर्वाचित किया गया है. वहीं प्रवीण तोगड़िया की जगह आलोक कुमार को अंतर्राष्ट्रीय कार्यकारी अध्यक्ष बनाया गया है. मालूम हो कि पिछले दिनों प्रवीण तोगड़िया संगठन से अलग होने की घोषणा की थी.

नई टीम की घोषणा के बाद डॉ. प्रवीण तोगडिय़ा ने नवनिर्वाचित अध्यक्ष विष्णु सदाशिव कोकजे को बधाई देते हुए कहा कि सत्ता के मदमस्तों ने उन्हें विहिप से विदा होने के लिए मजबूर कर दिया. हालांकि उन्होंने राम मंदिर के लिए संघर्ष जारी रखने की बात कही है.

वहीं विहिप के कार्यकारी अध्यक्ष आलोक कुमार ने कहा,  “नई जिम्मेदारी उनके लिए बहुत बड़ी चुनौती नहीं है. वह देश-दुनिया के करोड़ों हिन्दुओं के सहयोग से काम करेंगे. करोड़ों लोगों की इच्छा है कि अयोध्या में भगवान श्रीराम के मंदिर का निर्माण हो. इसके लिए वर्षों से प्रयास चल रहा है. जल्द ही मंदिर का निर्माण होगा.

उन्होंने कहा, “यदि कोई कहता है कि राम मंदिर निर्माण का आंदोलन कम हो गया है या हो जाएगा तो यह सोच गलत है. राम मंदिर निर्माण का आंदोलन किसी संगठन का नहीं है बल्कि देश-दुनिया के करोड़ों हिन्दुओं का आंदोलन है. विहिप या कोई संगठन केवल चेहरा है.”

सिविल लाइंस स्थित लोक निर्माण विभाग के विश्रामगृह में शनिवार को हुए चुनाव में आलोक कुमार एवं अशोक राव चौगुले को अंतरराष्ट्रीय कार्याध्यक्ष, मिलिंद परांडे को अंतरराष्ट्रीय महामंत्री, विनायक राव देशपांडेय को अंतरराष्ट्रीय संगठन महामंत्री, चंपत राय को अंतरराष्ट्रीय उपाध्यक्ष एवं कोटेश्वर राव को अंतरराष्ट्रीय संयुक्त महामंत्री की जिम्मेदारी सौंपी गई है.

अन्य पदों पर राघव रेड्डी की टीम में जो पदाधिकारी थे, उन्हें बरकरार रखा गया है.