भाई की सलामती की दुआ मांगती बहनें, राखी लेने सोलन बाजार पहुंचीं

सोलन के बाजारों में राखियां ही राखियां दिखाई - Panchayat Times
प्रतीक चित्र

सोलन. आने वाले रविवार को राखी का त्यौहार मनाया जाएगा. जिसके लिए सोलन के बाजारों में राखियां ही राखियां दिखाई पड़ रही है. राखी की रौनक से बाजार गुलजार है और अच्छा मुनाफा होने की उम्मीद में व्यापारियों के चेहरे खिले हुए हैं.

चारों ओर राखियों की दुकाने सजी हुई हैं. हैरानी की बात ये है कि इस बार पान की दुकान और फलों की दुकान पर भी राखियां बिक रही हैं. सोलन के बाजारों में भारतीय और चाइनीज दोनों तरह की राखियां उपलब्ध है. इस बार लाईट और साऊंड वाली राखियां खरीददारों को बेहद भाह रही है. बहनें भाई के लिए बड़े ही प्यार से राखियां खरीदती नजर आ रही है.

सोलन के बाजारों में राखियां ही राखियां दिखाई - Panchayat Times

ये भी पढ़ें- सरहद के रखवालों के लिए बन रही है रेशम की राखियां

भाई के लिए राखी खरीद रही बहनों ने बताया कि राखी का त्यौहार बहन-भाई के रिश्ते को और मजबूत करता है. इसलिए वह प्रत्येक वर्ष धूमधाम से इस राखी के त्यौहार को मनाते हैं. भाई की रुचि के अनुसार वह राखी खरीद कर उन्हें बांधती है. बहनों ने कहा कि राखी का त्यौहार बहन-भाई के प्यार का प्रतीक है. इसलिए वह इस त्यौहार में किसी भी तरह की कमी छोड़ना नहीं चाहते. प्रत्येक वर्ष उन्हें राखी के त्यौहार का बेसब्री से इंतजार रहता है. वैसे तो भाई-बहन के इस पावन अवसर पर बहनों को भाई की तरफ से मिलने वाले उपहार का बेसब्री से इंतजार रहता है लेकिन भाई की सलामती और खुशहाली से बड़ा कोई और उपहार हो ही नहीं सकता.